आर्यन खान ड्रग्स केस के संबंध में पिछले कुछ दिनों से रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं. इस मामले में गवाह प्रभाकर साइल के खुलासे के बाद एक अन्य गवाह किरण गोसावी (K.P. Gosavi) एक बार फिर चर्चा में आया है. किरण गोसावी के बारे मे जानकारी मिली है कि वो लखनऊ में है. गोसावी की कस्टडी हासिल करने के लिए पुणे पुलिस की एक टीम लखनऊ रवाना हो चुकी है.
प्रभाकर साइल द्वारा आर्यन खान का मामला दबाने के लिए 25 करोड़ की डील की बात सामने लाने के बाद सोमवार को किरण गोसावी का एक वायरल ऑडियो क्लिप सामने आया. उस क्लिप में उसने लखनऊ पुलिस के सामने सरेंडर करने की इच्छा जताई. लेकिन पुलिस अधिकारियों द्वारा उसे सरेंडर का मौका देने से इनकार कर दिया गया. फिलहाल ऐसा माना जा रहा है कि गोसावी लखनऊ में ही है. इसलिए जानकारी मिली है कि पुणे पुलिस की एक टीम गोसावी को लेने लखनऊ रवाना हो चुकी है.
गोसावी का दावा, मुझे जेल में डाल कर जान से मारने की धमकी
आर्यन खान मामले में गवाह किरण गोसावी पर पुणे के एक मामले में शिकायत दर्ज है. गोसावी के खिलाफ ठगी के मामले में शिकायत दर्ज करवाई गई थी. इस मामले पर गोसावी ने कल  प्रतिक्रिया दी थी. गोसावी ने कहा था कि मुझे ढूंढा जा रहा है. गोसावी ने दावा किया है कि  उसकी जान को खतरा है. उसे जेल में डाल कर जान से मारने की धमकी दी जा रही है.
प्रभाकर साइल ने 25 करोड़ की डील का खुलासा किया 
गोसावी के बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर साइल ने दावा किया था कि गोसावी सैम डिसूजा नाम के शख्स से मिलकर आर्यन खान के केस को दबाने के लिए 25 करोड़ की डील कर रहा था. इसके लिए वह शाहरुख खान की मैनेजर पूजा ददलानी के संपर्क में था. डील को 18 करोड़ में फाइनल किया जाना था. उनमें से 8 करोड़ समीर वानखेड़े को दिए जाने थे. प्रभाकर ने यह भी दावा किया है कि उससे पंच गवाह के तौर पर जबर्दस्ती 9 कोरे कागज पर साइन करवाए गए. उसने गोसावी और समीर वानखेड़े के कहने पर हस्ताक्षर कर दिए.
प्रभाकर के खुलासे पर गोसावी ने कहा कि वह समीर वानखेड़े को जानता ही नहीं
प्रभाकर के इस दावे पर गोसावी ने कहा है कि वह समीर वानखेड़े को जानता ही नहीं. समीर वानखेड़े को उसने टीवी पर देखा है. इससे पहले एनसीबी की किसी कार्रवाई में वह शामिल नहीं हुआ है. गोसावी ने कहा कि ड्रग्स पार्टी में कार्रवाई के बाद, उसमें तथ्य देखते हुए वह गवाह बनने को राजी हुआ. गोसावी ने यह भी दावा किया कि उसने खुद से शाहरुख की मैनेजर से बात नहीं की. दरअसल आर्यन खान का फोन जब्त कर लिया गया था. फोन ना होने की वजह से आर्यन ने ही उससे रिक्वेस्ट की. आर्यन ने अपने पिता और मां से बात करने की इच्छा जताई थी. गोसावी ने बताया कि आर्यन ने ही उसे शाहरुख की मैनेजर पूजा का नंबर दिया. कॉल लगा, लेकिन पूजा ने फोन नहीं उठाया. इसके बाद सैम नाम के व्यक्ति का फोन आया. सैम ने पूजा का नंबर मांगा. सैम ने कहा, ‘मुझे नंबर दो, मैं फोन लगाता हूं.’
नवाब मलिक ने भी के.पी,गोसावी के मनसुख हीरेन होने की आशंका जताई 
नवाब मलिक ने भी कल आर आज (मंगलवार, 26 अक्टूबर) गोसावी के मनसुख हीरेन होने की आशंका जताई है. नवाब मलिक ने कहा कि गोसावी को छुपाया गया है. जब इतनी बातें होने लगी तो वो घबरा कर सामने आया है. नवाब मलिक ने कहा, ‘मुझे डर है कि कहीं उसका हश्र मनसुख हीरेन वाला ना हो जाए.’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.