सुल्तानपुरः पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे उद्घाटन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को काला झंडा दिखाने वाली समाजवादी पार्टी महिला सभा की जिला उपाध्यक्ष के खिलाफ गोसाईगंज थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. न्यायालय में पेश करने के बाद महिला को जेल भेज दिया गया है.
उल्लेखनीय है कि गाजीपुर से लखनऊ के बीच बने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने 16 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंच से एक्सप्रेस वे का रिमोट से शुभारंभ करने के बाद जनता को संबोधित कर रहे थे. इसी दौरान समाजवादी पार्टी महिला सभा की जिला उपाध्यक्ष रीता यादव ने मंच की तरफ काला झंडा निकालकर लहराया था और योगी-मोदी के खिलाफ नारेबाजी की थी.
कार्यक्रम स्थल के ठीक सामने हुए विरोध प्रदर्शन के बाद पुलिस सकते में आ गई थी और आनन-फानन में जिलाधिकारी रमेश गुप्ता मौके पर पहुंचे थे. मौके से ही सपा कार्यकर्ता को पुलिस कस्टडी में ले लिया गया था. इसके बाद थाना अध्यक्ष गोसाईगंज के सिपाही की तहरीर पर समाजवादी पार्टी महिला सभा की जिला उपाध्यक्ष रीता यादव निवासी सुनावा, लालू का पुरवा थाना चांदा के खिलाफ धार्मिक उन्माद फैलाने का मुकदमा पंजीकृत किया गया है. सपा कार्यकर्ता को बुधवार की देर शाम न्यायालय में पेश किया गया था. जहां से कोर्ट ने जेल भेजने का आदेश दिया. इसके बाद सपा कार्यकर्ता रीता यादव को जेल भेज दिया गया.
एसपी डॉ. विपिन मिश्रा ने बताया कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री मंच से जनता को संबोधित कर रहे थे. इसी बीच सपा कार्यकर्ता रीता यादव काला झंडा दिखाया और माहौल खराब करने का कार्य किया. एसपी ने बताया कि इसके बाद रीता यादव के खिलाफ धारा 153 ए के तहत मुकदमा दर्ज कर किया गया था. बाद में आरोपी महिला को कोर्ट में पेशकर जेल भेज जिया गया है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.