उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में कथित तौर पर गायों दफन करने के मामले को लेकर कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी  ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है कि आपकी सरकार में सैकड़ों गायों को जिंदा दफन कर दिया गया है और गौ माता क्रूरता का शिकार बनी है. राज्य में लगातार प्रियंका गांधी योगी सरकार पर निशाना साध रही है और राज्य में चुनाव को देखते हुए प्रियंका काफी आक्रामक हैं.
दरअसल बांदा जिले में कुछ दिनों पहले गायों को दफनाने का मामला सामने आया था और अब गायों की हत्या और शवों को अवैध रूप से दफनाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. वहीं इस घटना को लेकर नाराज ग्रामीणों ने नरैनी चौराहे को अवरुद्ध कर विरोध जताया था और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. जानकारी के मुताबिक घूमंतू गायों को न सिर्फ मध्य प्रदेश की सीमा पर जंगल में छोड़ा गया, बल्कि उन्हें भी कीचड़ और भारी पत्थरों में जिंदा दफन कर दिया गया और स्थानीय बीजेपी विधायक राजकरण कबीर ने मौके पर पहुंचकर कई दबी गायों को मिट्टी और पत्थरों से बाहर निकाला. जिसमें कुछ गायों की मौत हो गई थी.

प्रियंका गांधी बोली- पीएम मोदी क्या यूपी सरकार से मांगेंगे जवाबदेही
अब मामले में कांग्रेस महासचिव ने भी राज्य की योगी सरकार पर निशाना साधा है. सीएम योगी के साथ ही प्रियंका गांधी ने भी पीएम नरेन्द्र मोदी से भी गायों की मौत को लेकर सवाल किया है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट के जरिए राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है “@myogiadityanath जी, आपकी सरकार के प्रशासन ने बांदा में सैकड़ों जिंदा गायों को दफना दिया. आपकी सरकार में गौशालाओं में गौ माता क्रूरता व अमानवीयता का शिकार हैं.narendramodi जी आज आप उप्र में हैं. क्या आप गौशालाओं की दुर्दशा पर उप्र सरकार से जवाबदेही मांगेंगे?
जमीन में दबी थी गायें, बीजेपी विधायक ने निकाली
वहीं जानकारी के मुताबिक लोगों और पुलिस ने जब मौके पर जाकर पत्थर और मिट्टी हटाई गई तो कई गायें दबी मिलीं. विधायक ने बताया कि सुबह इन गायों को मिट्टी में जिंदा दफन कर दिया गया था और ये गौ हत्या है. वहीं विधायक राजकरण कबीर ने जब नरैनी एसडीएम सुरजीत सिंह से फोन पर गायों के बारे में पूछा तो उन्हें बताया गया कि उन्हें गोशालाओं में भेज दिया गया है. वहीं एसडीएम ने कहा कि सभी गायों को तीन गोशालाओं में रखा गया है और मुझे पता नहीं कि कौन सी गाय विधायक ने पत्थरबाजों के नीचे निकाली.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.