• प्रतिदिन के कार्यों का लक्ष्य निर्धारण किया जाय: केशव प्रसाद मौर्य
  • लोक निर्माण विभाग की सड़कों पर हेक्टोमीटर व किलोमीटर दर्शाते हुये पिलर(स्टोन) लगाये जायं
  • उप्र में मजबूत किया जा रहा है रोड नेटवर्क: केशव प्रसाद मौर्य
लखनऊ। उप्र के उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि सड़कों को गड्ढ़ामुक्त करने का युद्धस्तर पर अभियान चलाया जाय। उन्होने कहा कि मण्डलवार व जिलावार कार्ययोजना बनाकर टाइमलाइन निर्धारित करते हुये इस अभियान को सफल बनाया जाय। राजमार्ग, प्रमुख जिला मार्ग, अन्य जिला मार्ग व ग्रामीण सड़कों के नवनिर्माण व नवीनीकरण तथा गडढ़ामुक्त करने का प्रतिदिन का लक्ष्य निर्धारित करते हुये कार्य कराये जांय।
उन्होने कहा कि सड़कों की मरम्मत, नवनिर्माण कराये जाने के कार्य से जहां सरकार को अर्थव्यवस्था को मजबूत करना व लोगों को आवागमन के सुगम साधन उपलब्ध कराना है, वहीं ज्यादा से ज्यादा मजूदरोंध्कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराना है। उन्होने कहा कि सड़कों का निर्माण रोजगार देने का अच्छा प्लेटफार्म है। श्री मौर्य आज अपने सरकारी आवास- 7, कालिदास मार्ग पर आयोजित उच्च स्तरीय बैठक मंे लोक निर्माण विभाग के कार्यों की, प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।
उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि ग्रामीण मार्गों को अन्य जिला मार्गों में तथा अन्य जिला मार्गों को मुख्य जिला मार्गों में तथा मुख्य जिला मार्गों को राजमार्गों में बदलने के लिये प्रभावी प्रयास किये जांय। श्री मौर्य ने कहा कि कौन सी सड़क कितनी पुरानी है, इसका वर्षवार ब्यौरा तैयार किया जाय। उन्होने निर्देश दिये कि लोक निर्माण विभाग की सड़कों पर प्रत्येक 200 मी0 व 1 किमी0 पर स्टोन (पिलर) लगाये जायं तथा उन पर किमी0ध्मी0 दर्शाते हुये लोक निर्माण विभाग का नाम लिखा जाय।
उन्होने कहा ग्रामीण मार्ग, अन्य जिला मार्ग तथा जिला मार्गों के निर्माण में, जहां पर घनी बस्तियां व गांव पड़ रहे हों, वहां पर आर0सी0सी रोड बनाया जाय तथा ड्रेनेज की उचित व्यवस्था की जाय। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश में सड़कों का मजबूत नेटवर्क बनाया जा रहा है। अधिकारी, जनसंख्या और स्थानीय आवश्यकताओं को देखते हुये सड़कों के नवनिर्माण व मरम्मत की भविष्य की भी कार्ययोजना पहले से ही तैयार रखें, उन्होने कहा कि कम लागत, उच्च गुणवत्ता व उच्च, नवीनतम व आधुनिक तकनीकी अपनाकर सड़कों का निर्माण/उच्चीकरण/नवीनीकरण के कार्य कराये जायं।
मार्गों पर रोड सेफ्टी के दृष्टिगत मार्ग सुरक्षा से सम्बन्धि बिन्दुओं का उल्लेख करते हुये अच्छी किस्म के बोर्ड लगाये जांय। उन्होने निर्देश दिये कि बोर्डों, पुल, पुलिया, किनारे के पेड़ों को अच्छे और टिकाऊ कलर से पेटिंग करायी जाय। निर्देश दिये कि गैंगमैनों व मेटों को सक्रिय किया जाय। केेशव प्रसाद मौर्य ने निर्देश दिये कि डाॅ. एपीजे कलाम पथों के बोर्डों पर मेघावी बच्चों के फोटो व अन्य विवरण, मेजर ध्यानचन्द विजय पथों के बोर्डों पर खिलाड़ियों के फोटो व विवरण तथा जय हिन्द विजय पथ योजना के तहत शहीदों के गांवों तक बनायी जा रही/मरम्मत की जा रही सड़कों पर लगाये जाने वाले बोर्डों पर सम्बन्धित शहीद की फोटो व विवरण अंकित कराया जाय।
उन्होने यह भी निर्देश दिये कि इन मेघावी छात्रों/छात्राओं तथा खिलाड़ियों को लोक निर्माण विभाग की ओर से प्रशंसा पत्र उपलब्ध कराये जांय तथा शहीदों के नाम के प्रशंसा-पत्र उनके परिजनों को उपलब्ध कराये जांय। इससे जहां प्रतिभावों को सम्मान मिलेगा, वहीं उनका उत्साहवर्धन होगा और अन्य छात्र/छात्राओं व खिलाड़ियों को प्रेरणा व प्रोत्साहन मिलेगा तथा शहीदों के नाम से उनके परिजनों को दिये जाने वाले प्रशंसा-पत्र से, जहां उनके परिजनों को सांत्वना मिलेगी, वहीं लोगों में देश-प्रेम की भावना भी बलवती होगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.