सोमवार को लखनऊ समेत प्रदेश के कई हिस्सों में तेज आंधी और उसके बाद-गरज चमक के साथ बारिश हुई। कहीं-कहीं ओले भी पड़े। वहीं मौसम विभाग ने मंगलवार को भी पूरे प्रदेश में 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज आंधी आने और गरज-चमक के साथ बारिश होने की चेतावनी जारी की है।

मौसम निदेशक जे.पी.गुप्त के अनुसार प्रदेश में दो दिन ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं। गुरुवार 7 मई को प्रदेश में मौसम साफ रह सकता है। रविवार की शाम से सोमवार की सुबह तक प्रदेश में सबसे अधिक 4 सेंटीमीटर बारिश धौरहरा में दर्ज की गई। इसके अलावा सहारनपुर में 3, देवबंद, नकुड़ में 2-2, अतर्रा, नजीबाबाद, महोबा, धामपुर, मेरठ में 1-1 सेण्टीमीटर बारिश रिकार्ड की गई।

इस आंधी पानी की वजह से लखनऊ सहित प्रदेश के कई अंचलों में दिन के तापमान में खासी गिरावट आ गई है। मई के इन शुरुआती दिनों में तेज तपिश वाली धूप और लू के बजाए ठण्डी हवा और बारिश ने शहरों में कूलर, एसी सब बंद करवा दिए हैं। कृषि विशेषज्ञों के अनुसार चूंकि अधिकांश इलाकों में फसल की कटाई हो चुकी है इसलिए इस आंधी पानी का खेती किसानी पर बहुत विपरीत असर नहीं पड़ेगा। तेज आंधी और ओलावृष्टि की वजह से आम की तैयार होती फसल को नुकसान पहुंचने का जरूर अंदेशा है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.