लखनऊ: राजधानी के पीजीआई थाना क्षेत्र में मामूली बात को लेकर दो लोगों में मारपीट हो गई. इस दौरान गैलेक्सी अपार्टमेंट से डायल 112 पर किसी ने गोली चलने की सूचना दी. सूचना मिलने के बाद आनन-फानन में पीजीआई पुलिस गैलेक्सी अपार्टमेंट पहुंची. मौके पर पहुंचने पर पुलिस को पता चला कि सूचना फर्जी है. इसके बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस मारपीट में शामिल इंजीनियर अजीत सिंह और अमित कुमार को थाने लेकर गई. इतना ही नहीं पुलिस दोनों पर मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई कर रही है.
राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र में गैलेक्सी अपार्टमेंट के 105 नंबर फ्लैट में रहने वाले अजीत सिंह की अमित कुमार से मकान की दलाली को लेकर विवाद हो गया. कुछ ही देर में विवाद इतना बढ़ा कि इंजीनियर अजीत सिंह ने अमित कुमार को मारना पीटना शुरू कर दिया. इस दौरान अमित कुमार अपनी जान बचाकर अपने ऑफिस में घुस गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया. अजीत सिंह अमित को मारने के लिए दरवाजा खुलवा रहे थे. इतने में डायल 112 पर पुलिस को गोली चलने की सूचना दी गई. आनन-फानन में गैलेक्सी अपार्टमेंट पहुंची पीजीआई पुलिस ने अमित को ऑफिस से बाहर निकाला.
पीजीआई पुलिस ने अमित से जब पूछताछ की तो गोली चलने की सूचना फर्जी निकली. इसके बाद पुलिस दोनों को थाने लेकर चली गई. पुलिस अमित के खिलाफ फर्जी सूचना देने के विरुद्ध कार्रवाई कर रही है. साथ ही पुलिस दोनों के खिलाफ मारपीट का मुकदमा पंजीकृत करेगी. बता दें कि अजीत सिंह पीडब्ल्यूडी में इंजीनियर है और सीतापुर में पोस्टेड हैं वहीं अमित कुमार गैलेक्सी अपार्टमेंट में जीबी बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड के सेल्स मैनेजर हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.