उत्तर प्रदेश सरकार ने जेल में हो रही घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए बड़ा कदम उठाया है। अब प्रदेश की बड़ी जेलों में पुलिसबल तैनात किया जाएगा, जेल की सुरक्षा तलाशी की जिम्मेदारी भी पुलिस को ही लेने का अधिकार होगा। प्रदेश भर में 25 अति संवेदनशील जेलों में एसएसपी और एसपी सिपाही उपलब्ध कराएंगे। दूसरी शर्त यह भी होगी की प्रत्येक 45 दिन बाद जेल से सिपाहियों को हटाकर दूसरे पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

जेल मुख्यालय के 1300 पुलिस कर्मियों को शासन ने मंजूरी दे दी है। प्रदेश की बड़ी जेलों में 50 पुलिस कर्मी तैनात होंगे तो वहीं छोटी जेल में 40 पुलिसकर्मी मुस्तैद किए जाएंगे। कैदियों, मुलाकातियों के साथ जेल कर्मियों की भी पुलिस को तलाशी लेने की इजाजत होगी। जेलों से अपराधियों के मौज मस्ती के वीडियो वायरल होने के बाद डीजी जेल में मांगा जाएगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.