लखनऊ: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के साथ ही मस्जिद निर्माण की तैयारियां भी तेज हो चली हैं. अयोध्या के धन्नीपुर गांव में सुन्नी वक्फ बोर्ड को मिली 5 एकड़ जमीन पर मस्जिद निर्माण के आर्किटेक्ट का चयन भी हो चुका है. मस्जिद निर्माण ट्रस्ट अयोध्या में बनने वाली मस्जिद के लिए धन जुटाने की कवायद में लगा है. इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन नामक ट्रस्ट ने इसके लिए दो बैंक अकाउंट खोले हैं. मस्जिद निर्माण के लिए पवित्र धन का इस्तेमाल होगा. शरीयत के मुताबिक ब्याज, शराब के व्यापार और जमाखोरी से जुटाए गए रुपये का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.
सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा गठित इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ट्रस्ट के सचिव अतहर हुसैन ने बताया कि तहसील सोहावल स्थित धन्नीपुर गांव में मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन आवंटित की गई है. यहां मस्जिद के साथ ही रीसर्च सेंटर, लाइब्रेरी, कम्युनिटी किचन, म्यूजियम का निर्माण भी होना है. इसके लिए लोगों से दान लिया जाएगा, जिसके लिए मस्जिद निर्माण ट्रस्ट ने दो अलग बैंक अकाउंट खोले हैं. मस्जिद के निर्माण के लिए पूरी तरह जायज यानी पवित्र धन का इस्तेमाल होगा. इसमें ब्याज, जमाखोरी से जुटाई गई रकम और शराब या गलत तरीके से कमाए गए धन का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. अतहर हुसैन ने बताया कि मस्जिद निर्माण के लिए दान पूरी तरह पवित्र धन के रूप में ही लिया जाएगा. गैर कानूनी ढंग से कमाए गए रुपये का इस्तेमाल मस्जिद के लिए नहीं लिया जाएगा.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.