उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 की शुरुआत में होने है, लेकिन सियासी तपिश अभी से महसूस की जा सकती है. जैसे जैसे चुनाव का वक़्त करीब आ रहे हैं, वैसे वैसे सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी रणनीति बना रहे हैं. उत्तर प्रदेश में मौजूदा वक्त में बीजेपी की सहयोगी पार्टी निषाद पार्टी व अपना दल लागातर बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व से मुलाकात कर रहा है. निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद ने पहले गृहमंत्री अमित शाह और अब बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलकात करके अपनी मांगों को दोहराया और उनके पूरा न होने की स्थिति में चुनाव में अन्य विकल्प तलाशने की बात भी की है.
बीजेपी को दी चेतावनी
मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाक़ात के बाद संजय निषाद आशान्वित है कि, बीजेपी द्वारा उनसे किये गए वादे को जल्द बीजेपी पूरा करेगी लेकिन आज एक बार फिर बीजेपी को चेतावनी देते हुए संजय निषाद ने कहा अगर बीजेपी हमारी मांगों को नहीं मानती तो हम अलग होकर चुनाव लड़ने पर विचार कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि प्रदेश में 160 सीटें निषाद बाहुल्य हैं, उसमें से कम से कम 72 सीट ऐसी हैं, जिनमे निषाद पार्टी जीत दर्ज कर सकती है ऐसे में बीजेपी से उन्होंने उचित सीट देने की मांग की है.
इसके साथ-साथ संजय निषाद ने बीजेपी को अपने पुराने वादे को पूरा करने की बात भी याद दिलाई और कहा उत्तर प्रदेश व केंद्रीय मंत्रिमंडल में उनको जगह दी जाए, बीजेपी ने जो वादा किया था उसको पूरा करे. बीजेपी को अपना वादा पूरा न करने की वजह से निषाद समुदाय में नाराजगी है और उन्होंने खुद एक राज्यसभा सीट देने के साथ केंद्र व राज्य में उचित सम्मान देने की बात कही थी.
बीजेपी हमे खुश रखेगी तो 2022 में उन्हें खुशी मिलेगी
संजय निषाद ने कहा कि, हमको अगर बीजेपी खुश रखेगी तो उनको 2022 में खुशी मिलेगी अन्यथा हमको दुखी करके बीजेपी खुश नहीं हो सकती. संजय निषाद ने बताया, कल से उत्तर प्रदेश में हमारी पार्टी द्वारा कार्यक्रम शुरू किए जाएंगे. हम कल से दौरे शुरू करेंगे और कार्यक्रम करेंगे. हमारे कार्यक्रम पहले से तय थे लेकिन बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने हमको दिल्ली मिलने के लिए बुलाया था जिस वजह से कार्यक्रम को आगे बढ़ाना पड़ा.
बीती 10 जून को गृह मंत्री स की थी मुलाकात
बता दें कि, 10 जून को संजय निषाद ने गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाक़ात करके अपनी मांगों को रखा था. अब मंगलवार को उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाक़ात की है और अपनी मांगों को दोहराया है. इसके बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद को आश्वस्त किया है कि, उनकी मांगों पर मंथन हो रहा है जल्द ही उन्हें उचित स्थान दिया जायेगा.
इसके अलावा यूपी में बीजेपी की दूसरी सहयोगी पार्टी अपना दल की प्रमुख अनुप्रिया पटेल ने भी 10 जून को गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी और अपना दल ने भी यूपी समेत केंद्र में बीजेपी के सहयोगी दल के रूप में अहम स्थान की मांग कर रही है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.