संत कबीर नगर – जिले में जहां किसानों को अब रवि की फसल के लिए पहले पानी देने की जरूरत खेतों को महसूस हो रही है। वही किसान अपनी बेहतर खेती को लेते हुए काफी परेशान नजर आ रहे हैं । क्योंकि धनघटा तहसील क्षेत्र में अभी नहरों में सफाई का काम बाकी रह गया है जिसकी वजह से नहरों में पानी नहीं है । देखा जाए तो नवंबर और दिसंबर का महीना रवि की फसल के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है।

सिंचाई के लिए दिसंबर के पहले सप्ताह में रवि की फसल को पहली सिंचाई दी जाती है । अब ऐसे में जब नहरे ही सूखी हो तो 50,000 किसानों के लिए एक बड़ा सवाल पैदा होता है कि फसल की जड़ को मजबूत करने के लिए जो पानी दिया जाता है वही अभी मुहैया नहीं है। जिसकी वजह अब किसान अपने आपको काफी परेशान महसूस कर रहे हैं।

वही इस संबंध में जिला अधिकारी से शिकायत पर अब तक कोई असर होता नहीं दिख रहा है जिसकी वजह से किसानों के साथ एक बड़ी समस्या फसलों को लेकर सामने आ रही है । हालांकि कई बार शिकायत के बावजूद भी स्थानीय अधिकारी इस विषय में तेजी नहीं दिखा रहे हैं जिसकी वजह से संत कबीर नगर के भीतर बहने वाली सभी नेहरे लगभग बिल्कुल ही सूखी पड़ी है।

संबंधित विभाग की लापरवाही किसानों पर बहुत भारी पड़ रही है । अब देखने वाली बात होगी कि किसानों की फसल पर इसका कितना असर पड़ता है या किसानों द्वारा दी गई एप्लीकेशन में स्थानीय प्रशासन अपना कितना असर दिखाता है ।

रिपोर्ट- गंगेश्वर यादव

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.