virat-kohli-pti-mनई दिल्ली। भारतीय टीम के बल्लेबाज विराट कोहली आज अपना 28वां जन्मदिन मना रहे हैं। विराट कोहली ने बेहद ही कम समय में जिस बुलंदियों तक पहुंच पायें है, शायद ही ऐसा कोई क्रिकेटर कर पाया है। विराट आज देश के ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे चहते क्रिकेटरों में से एक हैं। देश हो या फिर विदेश हर जगह कोहली के चाहने वाले है।

‘चीकू’ से कैसे बने विराट
विराट कोहली के बहुत करीब से जानने वाले और उनके टीममेट्स उन्हें ‘चीकू’ के नाम से बुलाते हैं। आखिर विराट का नाम चीकू कैसे पड़ा, हम आपको बताते हैं। बात उस समय की है जब विराट दिल्ली की रणजी टीम में नए-नए शामिल हुए थे। और खुद को साबित करने की कोशिशों में जुटे थे। तब तक विराट ने सिर्फ 10 रणजी ही खेल सके थे। दिल्ली रणजी टीम में उन दिनों वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, रजत भाटिया और मिथुन मन्हास जैसे दिग्गज खिलाड़ी शामिल थे और विराट इन सभी के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करके काफी खुश थे।

उस समय दिल्ली और मुंबई की टीमें रणजी मुकाबले में टकरा रहीं थी। एक शाम विराट ने अपने होटल के पास एक हेयर सैलून देखा और वहां से बाल कटाकर नए लुक में होटल वापस आए। होटल में मौजूद दूसरे खिलाड़ियों से विराट ने अपने नए हेयर कट के बारे में पूछा कि यह कैसा लग रहा है। तो दिल्ली के सहायक कोच अजित चौधरी ने जवाब दिया कि तुम चीकू लग रहे हो और उसके के बाद उन्हें सक चीकू कहने लगे।

विराट ने 2008 में पहला अंतरराष्ट्रीय वनडे खेला
विराट कोहली जब अंडर 19 और रणजी मुकाबलों में खेल रहे थे। तभी से हर किसी को मालूम हो गया था कि दिल्ली का ये चूकी एक दिन देश के लिए खेलेगा। विराट कोहली को श्रीलंका के खिलाफ 2008 में भारतीय वनडे टीम में शामिल कर लिया गया। उस सीरीज में विराट कोहली कुछ खास कमाल तो नहीं दिखा सके थे और सिर्फ एक ही हाफ सेंचुरी लगाई थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.