harbhajan-singh-580x360नई दिल्ली। सीनियर ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि असल मजा चुनौतीपूर्ण विकेट पर गेंदबाजी करना है जो पूरी तरह से स्पिन की अनुकूल नहीं हो।
रविचंद्रन अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में 46 ओवर में 167 रन दिए और उन्हें सिर्फ दो विकेट मिले लेकिन हरभजन ने इसे ‘एक खराब दिन करार दिया। राजकोट में पहले दिन भारत के गेंदबाजी प्रदर्शन के बारे में पूछने पर हरभजन ने कहा, ”मजा तो तब है जब विकेट चुनौतीपूर्ण हो। आपको अपनी लाइन और लेंथ में निरंतरता रखनी होगी और विभिन्न चीजें करने का प्रयास करना होगा। आपको विकेट हासिल करने के लिए जूझना होगा और इससे गेंदबाज के रूप में आपका कौशल निखरेगा।Ó हरभजन का साथ ही मानना है कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों को पूरा श्रेय दिया जाना चाहिए। हरभजन ने कहा, ‘रूट, स्टोक्स और मोईन सभी अच्छे खिलाड़ी हैं। उनकी टीम युवा है लेकिन अब तक टेस्ट मैच में उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की है। लेकिन यह अब भी शुरूआती दिन हैं। आप भारतीय गेंदबाजों को खारिज नहीं कर सकते। यह एक बुरा दिन है और मैं दूसरी पारी में अच्छे प्रदर्शन के लिए अश्विन और जडेजा दोनों का समर्थन करता हूं।Ó पिता बनने के बाद हरभजन ने क्रिकेट से थोड़े समय के लिए क्रिकेट से ब्रेक लिया और ब्रिटेन में अपने परिवार के साथ समय बिताया लेकिन वह नागपुर में तमिलनाडु के खिलाफ पंजाब के अगले रणजी ट्रॉफी मैच में वापसी के लिए तैयार हैं। हरभजन ने कहा कि पिता बनना एक ऐसा अनुभव है जो निश्चित तौर पर दो विश्व कप जीतने से बड़ा है। उन्होंने कहा, ‘मेरी बेटी मेरे जीवन का सबसे बेहतरीन तोहफा है। अब मुझे किसी और चीज को देखने की जरूरत नहीं है। विश्व कप, टेस्ट सीरीज में जीत जैसी चीजें पिता बनने की खुशी की तुलना में कुछ भी नहीं हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.