kohli-captainइंदौर। भारतीय टीम ने तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन ही न्यजीलैंड को 321 रनों से हराकर हराकर सीरीज में क्लीन स्वीप कर दिया। इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेले गए सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में टीम इंडिया ने कीवी टीम को जीत के लिए 475 रनों का लक्ष्य दिया था। लेकिन कीवी टीम चौथे दिन के तीसरे सेशन में 153 रन बनाकर ही ढेर हो गई।

ब्रेक के बाद  
चौथे दिन लंच ब्रेक के बाद न्यूजीलैंड की टीम  पूरी तरह भरभरा गई। भारत की जीत के हीरो रहे अश्विन। आर अश्विन ने दूसरी पारी में भी 7 विकेट हासिल किए।

पहले की सीरिज
यह चौथा मौका है जब भारत ने किसी टीम को सीरीज में एक भी मैच नहीं जीतने दिया है।  इससे पहले भारत ने अजहरूद्दीन की कप्तानी में 1992-93 में न्यूजीलैंड को और 1993-94 में श्रीलंका को 3-0 के अंतर से हराई थी। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में साल 2012-13 में 4-0 से सीरिज अपने नाम की थी। अब टेस्ट मैच में विराट कोहली की कप्तानी में ऐसा करने वाले तीसरे भारतीय कप्तान बन गए हैं।

इंडिया टीम ने 475 रन का दिया लक्ष्य
न्यूजीलैंड 475 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी लेकिन शुरुआत अच्छी नहीं रही। उमेश यादव ने पारी के दूसरे ओवर में ही टॉम लैथम को एलबीडब्ल्यू ऑउट कर पवेलियन वापस भेज दिया। लैथम ने पारी के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर छक्का जड़ा था। लेकिन वह इस आक्रामक रुख को कायम नहीं रख सके और केवल 6 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद विकेटों के गिरने का सिलसिला लगातार जारी रहा। वाटलिंग और सेंटनर ने पिच पर थोड़े होने की कोशिश की लेकिन अश्विन ने इस पारी का चौथा और मैच में दसवा विकेट सेंटनर के रूप में हासिल किया। अश्विन ने सेंटनर को 14 रन पर ही बोल्ड कर पवेलियन भेज दिया।
 
न्यूजीलैंड की टीम ने 137 रन पर अपना सातवां विकेट खोया। इसके बाद अश्विन ने अपने 11वें ओवर में दो विकेट खो दिए। 138 रन पर कीवी टीम को आठवां और नौवां झटका लगा।  अश्विन ने न्यूजीलैंड के  6, रविंद्र जड़ेजा ने 2 और उमेश यादव 1 खिलाड़ी को आउट किया। ब्रेक के बाद भारत को अश्विन ने कप्तान केन विलियमसन के रूप में भारत को दूसरी सफलता दिलाई।  विलियमसन ने 33 गेंदों में 27 रन बनाए। विलियमसन को इस सीरीज में चौथी बार अश्विन ने आउट किया।
 
इसके बाद अश्विन ने तेजी से रन बना रहे रॉस टेलर को भी 32 रन पर बोल्ट कर तीसरी सफलता दिलाई। विकेटों के गिरने का क्रम इसी तरह जारी रहा। किसी तरह 100 रन के पार पहुंची कीवी टीम को अश्विन ने चौथा झटका  दिया। उन्होंने ल्युक रॉन्की को अंदर आती एक नीची गेंद पर बोल्ड कर दिया। रॉन्की केवल 5 रन बना सके। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आए जेम्स नीशम को जड़ेजा ने खाता भी नहीं खेलने दिया, नीशम ने पहली पारी में 71 रन बनाए थे। इसके बाद जड़ेजा ने मार्टिन गप्टिल को भी चलता कर दिया और भारत की झोली में छठवां विकेट डाल दिया। गप्टिल 29 रन बना सके। आधी कीवी टीम 23 ओवर में 103 के स्कोर पर पवेलियन लौट गई।  

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.