india-vs-new-zealand-mohaliमोहाली। न्यूजीलैंड और इंडिया के बीच खेले गए पांच वनडे मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 6 रन से हराकर सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली थी। अब पिछले मैच में हार के बाद कल मोहाली में होने वाले न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे एक दिवसीय मुकाबले में भारतीय टीम की कोशिश जीत के साथ सीरज में बढ़त लेने की होगी।

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में मिली 6 रन की हार ने भारत को सोचने के लिए मजबूर कर दिया। क्योंकि एक समय एकतरफा हार रही टीम इंडिया को इस मैच में 6 रन से नजदीकी हार मिली थी। इससे पहले इ्ंडिया टीम ने एक तरफा टेस्ट सीरीज जीत दर्ज करने के बाद धर्मशाला में हुए पहले वनडे में भी फतह हासिल की थी।

न्यूजीलैंड की ओर से देखे तो उन्हें लगातार हार के बाद जीत की दरकार थी. परिणामस्वरूप उन्होंने 13 साल बाद भारतीय सरजमीं पर पहली जीत दर्ज की और यहां पीसीए स्टेडियम में जब मेहमान टीम मैदान में उतरेगी तो वह निश्चित रूप से और हैरानी भरा परिणाम हासिल करने की कोशिश करेगी।

वहीं दूसरी ओर भारतीय टीम दिल्ली में 243 रन के लक्ष्य का पीछा करने में मिली विफलता के लिये खुद को ही दोषी ठहरा सकती है क्योंकि उनसे यह स्कोर बिना किसी परेशानी के हासिल करने की उम्मीद थी। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि मेजबान टीम के बल्लेबाजों ने अगर अहम मौकों पर आउट होने के बजाय अतिरिक्त 10-15 रन बना लिये होते तो परिणाम कुछ और ही होता।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.