इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच तीसरा और अंतिम टेस्ट मैच इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की 600 विकेट पूरे करने की अद्भुत उपलब्धि के साथ मंगलवार (25 अगस्त) को पांचवें और अंतिम दिन ड्रॉ समाप्त हो गया। मैच का आखिरी दिन बारिश से बुरी तरह प्रभावित रहा और बारिश इंग्लैंड की सीरीज को 2-0 से जीतने और आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंचने की उम्मीदों के सामने बाधा बन गई। इंग्लैंड ने पहला टेस्ट जीतने की बदौलत तीन मैचों की सीरीज 1-0 से अपने नाम की। इंग्लैंड ने इससे पहले वेस्टइंडीज से कोरोना के बीच तीन मैचों की सीरीज 2-1 से जीती थी।

पाकिस्तान का इस मैच को बचाने की उम्मीदों का सारा दारोमदार बारिश और खराब रोशनी पर टिका हुआ था और बारिश ने इस टेस्ट को ड्रॉ कराने में पाकिस्तान की पूरी मदद की। पाकिस्तान ने फॉलोआन के बाद खेलते हुए चौथे दिन 56 ओवर के खेल में दो विकेट खोकर 100 रन बनाए और उसे पारी की हार से बचने लिए अभी 210 रन बनाने थे। मैच जब ड्रॉ समाप्त हुआ, तब पाकिस्तान ने 83.1 ओवर में चार विकेट पर 187 रन बनाए थे। अंतिम दिन 27.1ओवर का खेल ही संभव हो पाया।

इस सीरीज के खत्म होने के साथ आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप प्वॉइंट टेबल में भारत 360 अंकों के साथ पहले स्थान पर बना हुआ है। ऑस्ट्रेलिया 296 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर और इंग्लैंड 292 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है।

आइए नजर डालते हैं आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट टेबल परः

टीम M W L T D N/R PT
भारत 9 7 2 0 0 0 360
ऑस्ट्रेलिया 10 7 2 0 1 0 296
इंग्लैंड 15 8 4 0 3 0 292
न्यूजीलैंड 7 3 4 0 1 0 180
पाकिस्तान 8 2 3 0 3 0 166
श्रीलंका 4 1 2 0 1 0 80
वेस्टइंडीज 5 1 4 0 0 0 40
दक्षिण अफ्रीका 7 1 6 0 0 0 24
बांग्लादेश 3 0 3 0 0 0 0

M: मैच, W: जीत, L: हार, T: टाई, D: ड्रॉ, N/R: नो रिजल्ट, PT: प्वॉइंट्स

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट्स का क्या सिस्टम है-
दरअसल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट सिस्टम के मुताबिक दो मैचों की सीरीज में जीतने पर 60 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 30 प्वॉइंट्स और ड्रॉ के 20 प्वॉइंट्स मिलेंगे, जबकि हारने पर एक भी प्वॉइंट नहीं होगा। कितने भी मैचों की सीरीज हो हारने वाली टीम को कोई प्वॉइंट नहीं मिलेगा। वहीं तीन मैचों की सीरीज में जीतने पर 40 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 20 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर 13 प्वॉइंट्स होंगे।

चार मैचों की सीरीज में जीतने वाली टीम को 30 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 15 प्वॉइंट्स और मैच ड्रॉ होने पर 10 प्वॉइंट्स होंगे। जबकि पांच मैचों की सीरीज में जीतने पर 24 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 12 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर आठ प्वॉइंट्स होंगे। (टाई और ड्रॉ होने पर दोनों टीमों के एक जैसे प्वॉइंट्स मिलेंगे।)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.