T20 World Cup 2021 के पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को 5 विकेट से हरा दिया. अबु धाबी में खेले गए सेमीफाइनल मैच में न्यूजीलैंड ने 167 रनों की चुनौती को 6 गेंद पहले ही हासिल कर लिया. न्यूजीलैंड की जीत में डैरेल मिचेल का अहम योगदान रहा जिन्होंने शानदार अर्धशतक लगाया. जिम्मी नीशम ने भी 10 गेंदों में 26 रन बनाकर टीम की जीत तय की. डैरेल मिचेल इंग्लैंड पर भारी पड़े. ओपनिंग पर उतरते हुए मिचेल ने अंत तक बल्लेबाजी की. मिचेल ने 47 गेंदों में नाबाद 72 रन बनाए. इस बल्लेबाज ने 4 चौके और 4 छक्के जड़े. डेवॉन कॉन्वे ने भी 38 गेंदों में 46 रनों की पारी खेली. अंत में जेम्स नीशम की ताबड़तोड़ हिटिंग ने भी इंग्लैंड को काफी नुकसान पहुंचाया.
विलियमसन-गप्टिल नहीं चले, मिचेल-कॉन्वे ने संभाला
167 रनों का पीछा करने उतरी कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही. न्यूजीलैंड ने तीसरे ओवर तक मार्टिन गप्टिल और केन विलियमसन के बड़े विकेट गंवा दिए. गप्टिल ने 4 और विलियमसन ने 5 रन बनाए. दोनों को क्रिस वोक्स ने आउट किया. लेकिन इसके बाद डैरेल मिचेल और डेवॉन कॉन्वे ने अर्धशतकीय साझेदारी कर न्यूजीलैंड को संभाला. दोनों के बीच 67 गेंदों में 82 रनों की साझेदारी की. हालांकि कॉन्वे के 46 रन पर आउट होने के बाद इंग्लैंड ने मैच में वापसी कर ली. ग्लेन फिलिप्स भी 2 रन बनाकर आउट हो गए और इंग्लैंड जीत की ओर बढ़ता दिखने लगा. लेकिन इसके बाद जिम्मी नीशम ने क्रीज पर उतरकर मैच का नक्शा ही बदल दिया. इस ऑलराउंडर ने 3 चौके एक छक्के की मदद से 11 गेंदों में 27 रन बना डाले. क्रिस जॉर्डन के ओवर में नीशम और मिचेल ने 23 रन बटोरे. इसके बाद डैरेल मिचेल ने अंतिम ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिला दी.
बटलर फ्लॉप, मोइन अली-मलान ने संभाला
इंग्लैंड ने टॉस गंवाया और वह पहले बल्लेबाजी के लिये उतरे. जेसन रॉय चोटिल होने के कारण नहीं खेल रहे थे और उनकी गैरमौजूदगी में बटलर के साथ पारी का आगाज करने वाले जॉनी बेयरस्टो (17 गेंदों पर 13 रन) छठे ओवर में आउट होने से पहले केवल एक विश्वसनीय शॉट लगा पाये थे. बटलर के दो दर्शनीय चौकों और पांच अतिरिक्त रन की मदद से इंग्लैंड ने बोल्ट के पारी के चौथे ओवर में 16 रन बटोरे थे लेकिन मिल्न (31 रन देकर एक) के गेंद थामते ही बेयरस्टो को पवेलियन भेज दिया. विलियमसन ने बेयरस्टो के कवर ड्राइव पर डाइव लगाकर बड़ी खूबसूरती से कैच में बदला. इंग्लैंड पावरप्ले में 40 रन तक ही पहुंच पाया.
विलियमसन ने इसके तुरंत बाद दोनों छोर से स्पिन आक्रमण लगा दिया. इसका उन्हें तब फायदा मिला जब लेग स्पिनर सोढ़ी (32 रन देकर एक) ने बटलर को LBW आउट करके न्यूजीलैंड को बड़ी सफलता दिलायी. बटलर रिवर्स स्वीप से चूक गये थे और उन्होंने साथ में एक रिव्यू भी गंवा दिया.
मलान-मोइन की जोड़ी टिकी
मलान की टाइमिंग गजब थी और उन्होंने कमाल के कवर ड्राइव खेले, लेकिन न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने बीच के ओवरों में भी बल्लेबाजों को खुलकर खेलने की छूट नहीं दी. दूसरे छोर पर मोइन अली संघर्ष कर रहे थे और ऐसे में रन रेट तेज करने की दरकार थी. मलान ने साउदी (24 रन देकर एक) पर छक्का लगाया लेकिन अगली गेंद बल्ले का किनारा लेकिर विकेटकीपर डेवॉन कॉनवे के दस्तानों में समा गयी. इसके बाद मोइन अली ने आखिरी ओवरों में कमाल की बल्लेबाजी की. इस खिलाड़ी ने मुश्किल पिच पर 36 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया. लिविंगस्टोन ने भी 10 गेंदों में 17 रन बनाकर इंग्लैंड को 166 रन तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.