रोहित शर्मा IPL 2021 के दूसरे हाफ के पहले मुकाबले में चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ नहीं खेले थे. मुंबई इंडियंस के कप्तान के नहीं खेलने के बारे में टीम की ओर से कहा गया था कि वे पूरी तरह फिट नहीं है. इस वजह से चेन्नई के खिलाफ मुकाबले में नहीं उतरे. मुंबई इंडियंस के कोच महेला जयवर्धने के रोहित शर्मा की चोट की जानकारी देते हुए बताया था कि इंग्लैंड दौरे पर लगी चोट से वह अभी पूरी तरह फिट नहीं हुए हैं. इसी वजह से जोखिम लेने के बजाए रोहित को आराम दिया गया. लेकिन यह पूरी खबर नहीं है. शायद. जानकारी है कि रोहित 2023 वर्ल्ड कप की तैयारियों में अभी से जुटे हुए हैं. इसी के तहत वह आगे बढ़ रहे हैं और अपने शरीर को थकने से बचा रहे हैं.
इसी के तहत पिछले दो सीजन से देखा जा रहा है कि रोहित आईपीएल के दौरान आराम ले रहे हैं. चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ नहीं खेलना भी इसी प्लान का हिस्सा था. आईपीएल 2020 में भी रोहित हैमस्ट्रिंग चोट के बाद काफी मैचों से बाहर रहे थे. टाइम्स ऑफ इंडिया ने मुंबई इंडियंस के सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि रोहित काफी समय से 2023 वर्ल्ड कप के रोडमैप पर काम कर रहे हैं. ऐसे में अगले दो साल के लिए वे चाहते हैं कि टीम इंडिया को प्राथमिकता दी जाए.
वर्ल्ड कप के हिसाब से लेते रहेंगे ब्रेक
एक सूत्र के हवाले से लिखा गया है, ‘हम भारत को सबसे पहले रखते हैं. वह भारत को सबसे आगे रखता है. आईपीएल के बाद वर्ल्ड कप आना है. टीम इंडिया को ध्यान में रखते हुए ही उनके वर्कलोड का ख्याल रखा जाएगा.’ रोहित का चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ नहीं खेलना भी इसी के तहत उठाया गया कदम था. उनकी फिटनेस में कोई दिक्कत नहीं है. वर्ल्ड कप को देखते हुए रोहित जरूरत के हिसाब से ब्रेक लेंगे. रोहित शर्मा 34 साल के हो चुके हैं. वे चाहते हैं कि अपने करियर के आखिरी 2-3 सालों में वे जितना हो सके उतना भारत के लिए खेले.
2023 का वर्ल्ड कप है सबसे बड़ा लक्ष्य
टेस्ट क्रिकेट के लिए फिर से एक बार पुरजोर कोशिश भी इसी प्लान का हिस्सा था. नतीजा है कि पिछले एक साल में रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट के नंबर वन ओपनर बनकर उभरे हैं. ऑस्ट्रेलिया के बाद इंग्लैंड दौरे पर अपने खेल से उन्होंने काबिलियत साबित की है. रिपोर्ट के अनुसार, रोहित शर्मा अभी से अक्टूबर 2023 तक खुद को पूरी तरह फिट और टीम इंडिया के लिए तैयार रखना चाहते हैं. वे चाहते हैं कि घरेलू जमीन यानी भारत में होने वाले वर्ल्ड कप की तैयारी में कोई कमी नहीं रहे. 2023 तक भारत को तीन वर्ल्ड कप खेलने हैं. इनमें दो टी20 और एक 50 ओवर का वर्ल्ड कप शामिल है. रोहित 2011 वर्ल्ड कप नहीं खेल पाने पर कई बार निराशा जाहिर कर चुके हैं. उन्होंने कहा था कि भारत में हुए वर्ल्ड कप में नहीं खेल पाना काफी परेशान करता है. शायद यही वजह है कि वे इस निराशा को 2023 वर्ल्ड कप के जरिए दूर करना चाहते हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.