Saina-Kashyapआठवीं वरीय साइना नेहवाल एक बार फिर यिहान वैंग की चुनौती से पार पाने में विफल रही जबकि पुरुष एकल में पारूपल्ली कश्यप को दुनिया के नंबर एक मलेशियाई खिलाड़ी ली चोंग वेई के खिलाफ सीधे गेम में शिकस्त का सामना करना पड़ा।
साइना और कश्यप की हार के साथ ओपन सुपर सरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में ही भारत की चुनौती समाप्त हो गई। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना के लिए चीन की पूर्व विश्व चैम्पियन यिहान वैंग एक बार फिर अबूझ पहेली साबित हुई और भारतीय खिलाड़ी को तीसरी वरीय यिहान के खिलाफ 39 मिनट में 16.21ए 14.21 से शिकस्त का सामना करना पड़ा। दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी के खिलाफ 9 मैचों में यह साइना की आठवीं हार है। साइना ने यिहान के खिलाफ एकमात्र जीत डेनमार्क ओपन 2012 के दौरान दर्ज कीए लेकिन तब वह चीन की खिलाड़ी के चोटिल होने के कारण मैच के बीच से हटने पर जीतने में सफल रही थी।
इंडिया ओपन में हालांकि यह साइना का अब तक का सबसे बेहतर प्रदर्शन है। यह शीर्ष भारतीय खिलाड़ी पहले टूर्नामेंट में पहले दौर में ही बाहर हो गई थीए जबकि पिछले दो साल से उन्हें दूसरे दौर में शिकस्त का सामना करना पड़ा।
दूसरी तरफ दुनिया के 23वें नंबर के खिलाड़ी कश्यप को शीर्ष वरीय चोंग वेई के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में सीधे गेम में 40 मिनट में 21.15ए 21.13 से हार झेलनी पड़ीए जो दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी के खिलाफ उनकी चार मैचों में चौथी हार है। कश्यप को चोंग वेई ने कोई मौका नहीं दिया। चोंग वेई पूरे मैच के दौरान काफी सहज दिखे जबकि भारतीय खिलाड़ी के लिए भी यह मैच अनुभव के लिहाज से काफी अहम रहा है। मुख्य ड्रा के पहले ही दिन मिश्रित युगल और पुरूष युगल में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई थी जबकि दूसरे दिन महिला युगल में भारत की सभी खिलाड़ी हार गई। आज तीसरे दिन बाकी बचे भारत के दो खिलाडिय़ों साइना और कश्यप को भी अपने अपने मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.