अपनी कंपनी इंडिया सीमेंटस में महेंद्र सिंह धौनी की भूमिका पर बात करने से इनकार करते हुए बीसीसीआई के निर्वासित अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने साफ किया कि हितों के टकराव को लेकर उठ रहे सवालों के बावजूद भारतीय कप्तान को इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के भी अध्यक्ष श्रीनिवासन ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया। इस मामले की सुनवाई फिलहाल उच्चतम न्यायालय में चल रही है। इससे पहले न्यायमूर्ति मुकुल मुदगल की समिति ने इस संबंध में अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी थी।

श्रीनिवासन ने एक आईसीसी कार्यक्रम के इतर कहा कि यह मामला अदालत में है। मैं इस बार बात नहीं कर सकता। धौनी से जुड़े सवाल पर तमिलनाडु के इस प्रशासक ने और कड़ा जवाब दिया। धौनी आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान होने के अलावा इंडिया सीमेंटस के कर्मचारी भी हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स इंडिया सीमेंटस की ही टीम है।

इससे पहले उच्चतम न्यायालय ने धौनी और श्रीनिवासन दोनों के हितों के टकराव के मुद्दों पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। धौनी को इस्तीफा देने के लिए कहा जाएगा या नहीं, इस बारे में पूछने पर श्रीनिवासन ने कहा कि मैं उसे इस्तीफा देने के लिए क्यों कहूं।

श्रीनिवासन ने हालांकि इन सुझावों से इनकार किया कि आईपीएल प्रकरण से भारतीय क्रिकेट की छवि को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि मैं इससे सहमत नहीं हूं कि भारतीय क्रिकेट को इससे नुकसान पहुंचा है।dhoni

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.