विकेटकीपर-बल्लेबाज संजू सैमसन का आईपीएल फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स के साथ पहला साल राहुल द्रविड़ का कप्तान के तौर पर फ्रेंचाइजी के साथ आखिरी साल रहा था। सैमसन ने कहा कि जब द्रविड़ ने उनसे टीम में आने के बारे में पूछा था तो यह उनके सपने के सच होने जैसा था। कोरोना वायरस की वजह से सभी क्रिकेट टूर्नामेंट स्थगित या रद्द हो चुके हैं। आईपीएल 2019 को भी अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया जा चुका है। ऐसे में क्रिकेटर्स और आईपीएल फ्रेंचाइजी फैन्स के साथ बने रहने के लिए सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं।

संजू सैमसन ने न्यूजीलैंड के लेग स्पिनर और रॉयल्स टीम के स्पिन सलाहकार ईश सोढ़ी के साथ इंस्टाग्राम पर बात करते हुए कहा, “राहुल भाई और जुबीन भरूचा (रॉयल्स के हेड ऑफ क्रिकेट) राजस्थान रॉयल्स के लिए ट्रायल्स ले रहे थे। मैंने वहां अच्छी बल्लेबाजी की थी। दूसरे दिन के अंत में, राहुल भाई मेरे पास आए और मुझसे कहा कि क्या तुम मेरी टीम के लिए खेलोगे? राहुल भाई का मेरे पास आना और उनके लिए खेलने के बारे में पूछना, यह सपने के सच होने जैसा था।”

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, “आईपीएल में मैं पहले छह मैच नहीं खेला था। मैं हमेशा उनसे और बाकी सीनियर खिलाड़ियों जैसे शेन वॉटसन, ब्रैड हॉज के साथ बात करता था और काफी कुछ सीखता था। अभी भी अगर मैं उन्हें फोन करूंगा तो वह मेरी मदद करेंगे। वह हमेशा मेरी मदद करने को तैयार रहते हैं।”

संजू सैमसन जब दिल्ली डेयरडेविल्स (अब दिल्ली कैपिटल्स) में थे तब भी द्रविड़ टीम के मेंटोर हुआ करते थे।  वहीं, दूसरी तरफ भारतीय टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज संजू सैमसन को टीम में जगह पक्की करने के लिए ज्यादा मौके नहीं मिले, लेकिन वह विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे लोगों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर खुश हैं। सैमसन ने न्यूजीलैंड दौरे पर भारत के लिए दो टी-20 मैच खेले, लेकिन वो अपना प्रभाव नहीं छोड़ पाए। इन दो मैचों में उन्होंने सिर्फ दो और आठ रन बनाए।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.