मेजबान इंग्लैंड और न्यूजीलैंड ने आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में जगह बना ली है। यह फाइनल 14 जुलाई यानी रविवार को क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाएगा और इसी दिन क्रिकेट की दुनिया को एक नया विश्व चैम्पियन मिलेगा।

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की टीमें अभी तक एक बार भी वनडे विश्व कप नहीं जीत सकी हैं। इंग्लैंड ने इससे पहले तीन बार फाइनल में कदम रखा था लेकिन जीत नहीं मिली थी।
वहीं न्यूजीलैंड 2015 में आस्ट्रेलिया से फाइनल में मात खा गई थी, लेकिन अब दोनों टीमों के पास पहली बार विश्व विजेता बनने का मौका है। वहीं विश्व क्रिकेट में 23 साल बाद ऐसा होगा जब विश्व कप कोई ऐसी टीम नहीं जीतेगी जो पहले जीत चुकी है।

1996 में श्रीलंका ने पहली बार विश्व कप जीता था। तब से लेकर 2015 तक कोई नया विश्व विजेता नहीं बना और वही टीमें विश्व कप जीतती आईं जो पहले जीत चुकी थीं, लेकिन इस बार वो इतिहास भी बदलेगा और 23 साल बाद ऐसा होगा कि विश्व कप की ट्रॉफी उस टीम के पास नहीं जाएगी जो पहले से जीत चुकी है। 1975 में वेस्टइंडीज ने विश्व कप जीता था।

वेस्टइंडीज ने 1979 में भी इंग्लैंड को मात दे विश्व कप अपने पास रखा था जिसे 1983 में भारत ने छीन लिया था। 1987 में इंग्लैंड को आस्ट्रेलिया ने खिताब जीतने से रोक दिया था तो 1992 में पाकिस्तान ने उसे एक बार फिर विश्व विजेता बनने से रोक दिया था।

1996 में श्रीलंका ने आस्ट्रेलिया के दूसरी बार विश्व विजेता बनने का सपना तोड़ दिया था, लेकिन 1999 में आस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को मात दे दूसरी बार विश्व कप जीता था जिसे 2003 में भारत और 2007 में श्रीलंका को मात दे अपने पास ही रखा था।

2011 में भी दो ऐसी टीमें फाइनल में भिड़ीं थी जो पहले एक-एक बार विश्व कप जीत चुकी थीं। यहां महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली भारत ने श्रीलंका को मात देकर 28 साल बाद विश्व कप ट्रॉफी उठाई थी। 2015 में आस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को मात दे एक बार फिर विश्व विजेता का तमगा वापस ले लिया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.