पिछली असफलताओं के बोझ तले दबी दिल्ली डेयरडेविल्स टीम आज (सोमवार) फिरोजशाह कोटला अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के अपने घरेलू मैदान पर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सातवें संस्करण के अपने सातवें और कुल 26वें मैच में चेन्नई superkings का सामना करेगी।
डेयरडेविल्स आईपीएल में सुपरकिंग्स के खिलाफ पिछले पांच मुकाबले हारती आ रही है, और इस मैच में उस पर अपनी हार के इस सिलसिले को तोड़ने का दबाव रहेगा। आईपीएल-7 में डेयरडेविल्स का सुपर किंग्स के खिलाफ यह दूसरा मैच है।
इससे पहले 21 अप्रैल को अबु धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में उसे सुपर किंग्स के हाथों बुरी तरह हार झेलनी पड़ी थी। सुपरकिंग्स से मिले 178 रनों लक्ष्य के जवाब में डेयरडेविल्स टीम आईपीएल के अपने दूसरे न्यूनतम स्कोर 84 रनों पर ढेर हो गई थी। वतन वापसी के साथ कोटला में शनिवार को हुए अपने पहले मैच में डेयरडेविल्स को राजस्थान रॉयल्स ने मात दे दी थी।
डेयरडेविल्स के लिए ज्यां पॉल ड्यूमिनी, दिनेश कार्तिक, मुरली विजय, क्विंटन डी कॉक जैसे खिलाड़ियों ने अलग-अलग मैचों में कुछ अहम पारियां जरूर खेली हैं, पर एक टीम की तरह प्रदर्शन करने में डेयरडेविल्स अब तक नाकाम रही है।
दूसरी ओर लगातार पांच मैचों में जीत दर्ज कर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में सुपरकिंग्स बेहद मजबूत नजर आने लगी है। ग्लेन मैक्सवेल की तूफानी पारी में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ सुपरकिंग्स ने सिर्फ एक मैच गंवाया है।
सुपरकिंग्स के प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आईपीएल-7 में अब तक सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों में ड्वायन स्मिथ और ब्रेंडन मैक्लम क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर मौजूद हैं, वहीं सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाजों की सूची में मोहित शर्मा (11) शीर्ष पर जबकि रविंद्र जडेजा (10 विकेट) दूसरे स्थान पर हैं।
शुरुआती तीन मैचों से बाहर रहे डेयरडेविल्स के कप्तान केविन पीटरसन टीम में वापसी के बाद बड़ा परिणाम भले न दे पाए हों, पर टीम की ऊर्जा में काफी इजाफा हुआ है। डी कॉक और ड्यूमिनी ने ही अब तक अपने प्रदर्शन में थोड़ी निरंतरता दिखाई है।
आईपीएल-7 में अब तक सर्वाधिक रन बनाने वाले शीर्ष 10 बल्लेबाजों में डेयरडेविल्स के सिर्फ ड्यूमिनी ही जगह बना सके हैं। ड्यूमिनी ने छह मैचों में 70.66 के औसत तथा 133.33 की स्ट्राइक रेट से 212 रन बनाए हैं।
डेयरडेविल्स का गेंदबाजी में भी अब तक का प्रदर्शन लचर ही रहा है। विकेट लेने के मामले में तो डेयरडेविल्स का कोई भी गेंदबाज अब तक शीर्ष 20 में भी जगह नहीं बना सका है।
हालांकि डेयरडेविल्स में युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की भी कोई कमी नहीं है। केदार जाधव ने पिछले मैच में जिस तरह अपने बेहतरीन खेल से सभी को आकर्षित किया है, उससे उन्हें बल्लेबाजी लाइनअप में ऊपर बुलाया जा सकता है।
दो बार की चैम्पियन सुपर किंग्स के खिलाफ डेयरडेविल्स का प्रदर्शन अब तक काफी खराब रहा है। सुपरकिंग्स के खिलाफ डेयरडेविल्स को आईपीएल में खेले गए अब तक 13 मैचों में से नौ बार हार का सामना करना पड़ा है। सुपर किंग्स के खिलाफ डेयरडेविल्स को पिछली जीत 10 अप्रैल, 2012 को कोटला के मैदान पर ही आईपीएल-5 में मिली थी।
आईपीएल-7 की आठ टीमों की अंकतालिका में सुपर किंग्स जहां छह में पांच मैच जीतकर शीर्ष पर विराजमान है, वहीं डेयरडेविल्स छह में से सिर्फ दो मैच जीतकर सातवें पायदान पर है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.