कभी धनुर्विद्या सीखने के लिए एकलव्य ने गुरु द्रोणाचार्य को अपना अपना अगूंठा दे दिया था लेकिन इस चेले ने तो इस शिष्य ने अपने गुरु और पद्मश्री अवार्ड विजेता व अंतरराष्ट्रीय limbaram-5334365740cbc_exl से पांच लाख रूपए और पद्मश्री अवार्ड ठग ले गया। आरोपी ने लिंबाराम को तीरंदाजी एकेडमी खोलने के लिए सस्ते दामों में जमीन दिलाने का झांसा दिया था। ज्योतिनगर थाना पुलिस के अनुसार तीरदांज लिम्बा राम ने अपने शिष्य प्रवीण शर्मा के खिलाफ हनुमानगढ में तीरदांजी अकादमी खोलने के नाम पर चार लाख रूपये नकद एएक लाख रूपये का चेक और पदमश्री सम्मान में मिला प्रमाण पत्र हड़पने का मामला आज दर्ज करवाया हैण् रिपोर्ट के अनुसार लिम्बाराम से प्रशिक्षण ले रहे प्रवीण शर्मा ने वर्ष 2008 में अपने गुरू लिम्बा राम को हनुमानगढ में तीरदांजी अकादमी खोलने के लिए राजी कर जमीन खरीदने के लिए चार लाख रूपये और बाद में एक लाख रूपये का चैक ले लियाण् पुलिस ने दर्ज रिपोर्ट के हवाले से बताया कि आरोपी प्रवीण शर्मा अकादमी की मंजूरी के लिए वर्ष 2011 में लिम्बा राम से पदमश्री का प्रमाण पत्र लेकर हो गया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.