पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी का कश्मीर पर दिया गया बयान पाकिस्तानियों को चुभ गया है। अफरीदी के बयान के बाद पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने अपने देश के क्रिकेटरों को विवादों से बचने के लिए राजनीतिक और अन्य संवेदनशील मसलों पर अपनी राय रखने से बचने की सलाह दी। हरफनमौला शाहिद अफरीदी द्वारा कश्मीर मसले पर विवादास्पद बयान दिए जाने के बाद उन्होंने यह बात कही।

मियांदाद ने कराची में मीडिया से कहा, ‘मैं यही कहूंगा कि जो अफरीदी ने कहा, वह उचित नहीं था और इससे बचा जा सकता था। उन्होंने कहा, क्रिकेटरों को सियासी और अन्य संवेदनशील मसलों पर बयान देने से बचना चाहिये। उन्होंने रिटायर होने तक क्रिकेट पर ही फोकस करना चाहिए और उसके बाद नए करियर के बारे में सोचना चाहिए।

अफरीदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘भारतीय मीडिया ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया। मैं अपने देश को लेकर काफी जज्बाती हूं और कश्मीरियों के संघर्ष की कद्र करता हूं। इंसानियत बनी रहनी चाहिए और उन्हें उनका हक मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह वीडियो क्लिप अधूरी है और उनकी बात को संदर्भ से इतर पेश किया गया।

पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी कश्मीर को लेकर अपने मुल्क पाकिस्तान को आईना दिखाया था। बकौल अफरीदी कश्मीर को संभालना पाकिस्तान जैसे मुल्क के बस की बात नहीं है। अफरीदी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पाकिस्तान कश्मीर को नहीं संभाल सकता है। इमरान सरकार की किरकिरी कराने वाले इस बयान के बाद यह पूर्व क्रिकेटर पाकिस्तान में निशाने पर है। सोशल मीडिया पर अफरीदी की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें अफरीदी कह रहे हैं, ‘पाकिस्तान से पाकिस्तान के सूबे ही नहीं संभल रहे हैं। वह कश्मीर को क्या संभालेगा।’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.