ब्रिस्बेन। के खिलाफ उलटफेर भरी जीत दर्ज करने के बाद उत्साह से ओत-प्रोतविश्व कप क्रिकेट के ग्रुप बी के बुधवार को यहां होने वाले मैच में (यूएई) के खिलाफ अपना विजय अभियान जारी रखने के लिए उतरेगा।

airland

आयरलैंड के केविन ओ ब्रायन ने अपने टीम को पहले ही आगाह कर दिया है कि यदि उनकी टीम गाबा में को हराने में नाकाम रही तो फिर वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत कोई मायने नहीं रखेगी। साथी एसोसिएट टीम के खिलाफ जीत दर्ज करने से आयरलैंड की क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की उम्मीद बढ़ जाएगी।

आयरिश टीम ने टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में दो बार के चैंपियन वेस्टइंडीज को हराया था। उसने 300 से अधिक के लक्ष्य को चार विकेट शेष रहते ही हासिल कर दिया था। आयरलैंड की टीम के कई सदस्य इंग्लिश काउंटी टीमों से खेलते हैं।

इनमें मिडिलसेक्स की तरफ से खेलने वाले पाल स्टर्लिंग और ससेक्स के एड जोएस भी शामिल हैं जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ क्रमश 92 और 84 रन बनाकर अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। उस मैच में समरसेट के बाएं हाथ के स्पिनर जार्ज डाकरेल ने भी 50 रन देकर तीन विकेट लिए थे। आयरलैंड और यूएई आईसीसी की छोटी प्रतियोगिताओं में कई बार एक-दूसरे से भिड़ चुके हैं आलराउंडर ओ’ ब्रायन यूएई के प्रदर्शन से प्रभावित हैं जिसने पूल बी एक मैच में जिम्बाब्वे को कड़ी चुनौती दी थी। जिम्बाब्वे ने यह मैच चार विकेट से जीता था।

ओ’ ब्रायन ने कहा कि उन्होंने वास्तव में जिम्बाब्वे को कड़ी चुनौती दी तथा सीन विलियम्स और क्रेग इर्विन की अच्छी बल्लेबाजी से ही जिम्बाब्वे वह मैच जीत पाया था। यूएई की टीम में मध्यक्रम के कुछ अच्छे बल्लेबाज हैं जिनमें खुर्रम खान और स्वप्निल पाटिल प्रमुख हैं।

इसके अलावा उसके स्पिनर विरोधी बल्लेबाजों पर अंकुश लगाने में सक्षम हैं। यूएई की टीम में अधिकतर खिलाड़ी भारत और पाकिस्तान में जन्में हैं। यूएई के कप्तान मोहम्मद तौकिर जानते हैं कि उनकी टीम ने जिम्बाब्वे के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया और उससे खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ा है। उनके बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया था जबकि गेंदबाजों ने भी अच्छी भूमिका निभाई थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.