पश्चिम बंगाल की तीन सीटों भवानीपुर, समशेरगंज और जंगीपुर में टीएमसी कार्यकर्ताओं (TMC Workers) क्रमशः ममता बनर्जी  , जाकिर हुसैन और अमिरूल इस्लाम की लगातार बढ़त के बाद कालीघाट स्थित ममता बनर्जी के कार्यालय सहित राज्य के विभिन्न इलाकों में जश्न शुरू हो गया है. इसे लेकर चुनाव आयोग ने राज्य सरकार को निर्देश दिया है कि कोरोना महामारी के मद्देनजर विजय जुलूस नहीं निकाले जाएं. इसे लेकर राज्य सरकार कदम उठाए.
बता दें कि भवानीपुर से ममता बनर्जी की रिकार्ड जीत की ओर बढ़ने के साथ टीएमसी के कार्यकर्ता एक-दूसरे को हरे रंग का अबीर लगा रहे हैं और ममता बनर्जी की नारेबाजी कर रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि सीएम ममता बनर्जी देश की अगली पीएम होंगी.
उपचुनाव में जीत के बाद प्रियंका ने जताई थी हिंसा की आशंका
.बता दें कि बीजेपी की उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल ने तगणना से पहले कलकत्ता उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखा था. प्रियंका टिबरेवाल ने परिणाम घोषित होने के बाद संभावित हिंसा को रोकने के उपाय करने की मांग की थी. प्रियंका टिबरेवाल ने कोलकाता पुलिस को भवानीपुर उपचुनाव परिणाम घोषित होने के बाद किसी भी तरह की हिंसा को रोकने के लिए सभी एहतियाती कदम उठाने के लिए सख्त आदेश देने की मांग की थी. बता दें कि चुनाव बाद हिंसाी को लेकर हाईकोर्ट के निर्देश पर सीबीआई जांच कर रही है.
कोरोना महामारी के मद्देनजर जुलूस निकालने पर है रोक, मन रहा है जश्न

टिबरेवाल ने अपने पत्र में पिछले विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा की घटनाओं का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था, ‘मैं इस उपचुनाव का उम्मीदवार हूं. मैं आपसे विनम्र निवेदन करता हूं कि सभी सरकारी प्रवर्तन विभागों को अत्यधिक एहतियाती कदम उठाने के लिए सख्त आदेश जारी करें, ताकि कोई निर्दोष न मारे जाए, कोई यौन अपराध न हो, कोई बेघर न हो और आगजनी की कोई घटना न हो. इसके साथ ही वर्तमान में कोरोना महामारी के मद्देनजर चुनाव आयोग के निर्देश है. इस निर्देश के मद्देनजर जुलूस निकालने पर रोक है. इसके बावजूद बंगाल के विभिन्न इलाकों में टीएमसी नेता जश्न मना रहे हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.