amit shah1

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 16 सितंबर को लखनऊ में कांशीराम स्मृति उपवन में मानवता सद्भावना समारोह में जनसभा को सम्बोधित किया। अपने संबोधन में अमित शाह ने राज्य की सपा सरकार पर जमकर निशाना साधा, शाह के निशाने पर दलितों की नेता और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती भी रहीं। समारोह के दौरान अमित शाह का भाषण कुछ इस तरह रहा…

नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली केंद्र सरकार दलितों, पिछडों एवं गरीबों के लिए समर्पित सरकार है। दलितों के हितैषी होने का स्वांग रचने वाले राहुल गांधी की पार्टी और सपा-बसपा ने दलितों से क्या व्यवहार किया है यह देश के लोग जानते है। भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र सरकार ने पिछले 2 वर्षो में बाबा साहब के जीवन से जुडे़ 5 स्मारको का जीर्णोद्धार व पुर्ननिर्माण कराकर पंचतीर्थ में विकसित करने का काम किया है। जिसमें उनके महू स्थित जन्मस्थान का पुर्ननिर्माण किया। लंदन में जहां पर उन्होने उच्च शिक्षा ग्रहण की थी उसको स्मारक बनाया, नागपुर की भिक्षा भूमि जहां वे बौद्ध बने उसे स्मारक बनाया। बाबा साहब की परिनिर्वाण भूमि दिल्ली स्थिति अलीपुर रोड़पर 100 करोड़ खर्च कर दलितों के अध्ययन के लिए केन्द्र बनाया । मुम्बई के इन्दुमिल (दादर) को समाधि स्थल के रूप में विकसित करने के लिए पर 1200 करोड़ रुपये खर्च किये।

सपा-बसपा कांग्रेस ने बाबा साहब का अपमान किया
सपा-बसपा कांग्रेस ने बाबा साहब को याद नही किया बल्कि उनका अपमान किया। बाबा साहब को राहुल के नाना जवाहर लाल नेहरू ने षड़यत्र कर 1952 में व 1953 के उप चुनाव में संसद नहीं जाने दिया। बाबा साहब को भारतरत्न देने का काम भी भारतीय जनता पार्टी की अटल जी की सरकार ने ही किया। संसद में बाबा साहब के प्रथम तैल चित्र का लगाने का कार्य भाजपा सरकार ने किया। मोदी जी ने उनकी 125वीं जयन्ती पर सिक्का एव डाक टिकट जारी किया। बाबा साहब को श्रद्धाजंलि देने के लिए नरेन्द्र मोदी जी की सरकार ने एक दिन का विशेष सत्र बुलाकर उसका जीवन्त प्रसारण किया। पिछली सोनिया-मनमोहन सिंह की सरकार की दो वैशाखियां सपा और बसपा थी। सपा ने दलितो को प्रताणित व बसपा ने दलितों का शोषण किया है, जिसमें तीनों पार्टियां बराबर की साझेदार है।

यूपी में बीजेपी की सरकार बनाने की अपील
भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र की वर्तमान सरकार ने दलित युवाओं को रोजगार देने के लिए स्टैण्डअप योजना के माध्यम से प्रत्येक राष्ट्रीयकृत बैंक की हर शाखा से कम से कम 10 दलित युवाओं को रोजगार शुरू करने के लिए कर्ज दिया। मुद्रा बैंक के माध्यम से उत्तर प्रदेश के 3 करोड़ गरीब दलित युवाओं को लाभ मिला। गरीब दलित महिलाओं को धुऐं की बीमारियों से बचाने के लिए उज्जवला योजना के माध्यम से गैस कनैक्शन बांटे जिसमें 12 लाख कनैक्शन उत्तर प्रदेश गरीब दलित महिलाओं को मिला। अगर उत्तर प्रदेश का विकास करना हैं, सबका साथ सबका विकास करना है तो यह काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार ही कर सकती है। 2017 में आप सब मिलकर 2 तिहाई बहुमत से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का काम करें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.