mayawatiलखनऊ। भाजपा के बढते जनाधार से बसपा सुप्रिमों मायावती बौखला गयी है। अपनी ही पार्टी के विधायकों, सांसदों एवं कार्यकर्ताओं के सवालों और आरोपो से परेशान बसपा सुप्रिमो मीडिया और पत्रकारों पर निशाना साध रही है। अखबारों और चैनलों पर पैसा लेकर खबर चलाने का आरोप लगा रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि 2012 में प्रदेश में अखिलेश सरकार बनने के बाद प्रदेश की जनता को उसके अपने हाल पर छोडकर दिल्ली चली जाने वाली मायावती प्रदेश में चुनाव सन्निकट देखकर घड़ियाली ऑसू बहा रही है।

भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने मायावती पर चुटकी लेते हुए कहा कि चार बार मुख्यमंत्री रहने के बावजूद उनको पता नहीं है कि कानून व्यवस्था, सड़क, बिजली पानी, आबकारी राज्य के विषय है। सुश्री मायावती इन सबका ठीकरा केन्द्र पर फोड़कर भतीजे अखिलेश यादव की सरकार को बचाने का कार्य कर रही है। उन्होंने मायावती पर सपा का राजनैतिक एहसान उतारने के लिए जनता का ध्यान अखिलेश सरकार की विफलताओं से हटाने का आरोप लगाया।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सुश्री मायावती जी एवं अखिलेश यादव में भ्रष्टाचारियों को बचाने की साठ-गॉठ हो चुकी हैं। मायावती जी के कार्यकाल में 22 मंत्रियों के खिलाफ लोकायुक्त के जांचोपरान्त फाइले मुख्यमंत्री कार्यलय में पड़ी है किन्तु साढे चार बीतने के बाद भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।

मौर्य ने मायावती को सलाह देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार की योजनाओं का अध्ययन करने के पश्चात् टिप्पणी करे नहीं तो उन योजनाओं से लाभान्वित जनता उनके ऊपर हंसती है। श्री मौर्य ने कहा कि जनधन योजना से उद्योगपत्तियों का लाभ हुआ का आरोप लगाकर मायावती जी अपनी स्थिति हास्यसापद कर रही है।

मौर्य ने कहा कि भारत की विदेश नीति एवं रक्षा-नीति की देश में ही नहीं सारे विश्व  में प्रशंसा हो रही हैं उसके सकारात्मक परिणाम विभिन्न अवसरों पर देखने को मिल रहे है और सुश्री मायावती जी उस पर सवाल उठा रही है सम्भवतः उन्हें जानकारी का अभाव है या देश के गौरव का अपमान कर रही है।

मौर्य ने कहा कि मायावती जी कम से कम देश क लिए संवेदनशील मुद्दों पर राजनीति न करें क्योंकि जनता सबका मूल्यांकन कर रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.