bjp-president-amit-shahअमित शाह ने कहा कि, बहन मायावती को पहले यह बताना चाहिए कांशीराम जी ने जब उनको अपना वारिस घोषित किया था। तब उनकी और उनके भाई की संपत्ति कितनी थी। आज उनकी संपत्ति कितनी है। राज्य के दलितों को अपने आप ही मायावती जी की असलियत का पता चल जाएगा। अमित शाह समाजवादी पार्टी की सरकार जब यूपी में आती है तो दलितों को प्रताड़ित किया जाता है और जब बसपा आती है तो उनका शोषण किया जाता है। केवल भारतीय जनता पार्टी ही दलितों के विकास की बात करती है।

प्रदेश की कानून व्यवस्था
अमित शाह यूपी की बदहाल क़ानून व्यवस्था से समाजवादी पार्टी की सरकार नहीं निपट सकती है। अमित शाह समाज के अंतिम से अंतिम व्यक्ति का विकास कर उसे समाज की मुख्यधारा में शामिल करना हमारी प्राथमिकता है। अमित शाह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में हम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय और गरीब कल्याण के स्वप्न को साकार करने के लिए संकल्पबद्ध हैं।
 
अमित शाह दलित गरीब व पिछड़ों के कल्याण एवं भगवान बुद्ध के विचारों को जमीन पर उतारने के उद्देश्य के साथ बहुजन समाज पार्टी की सरकार तो बनी लेकिन इसका परिणाम क्या हुआ। दलित गरीब और पिछड़े तो वहीं के वहीं रह गए। हाँ बहन मायावती की संपत्ति जरूर कई गुना बढ़ गई अमित शाह बाबा साहब

बाबा साहेब को कांग्रेस ने अपमानित किया
भीमराव अम्बेडकर को अपमानित करने का अगर किसी सरकार ने काम किया है तो वह केवल कांग्रेस की सरकार ने किया है। अमित शाह भारतीय जनता पार्टी की राज्य सरकारें हो या केंद्र की सरकारें, सबने बाबा साहब को सम्मानित करने का काम किया। उनके विचारों को सरकार की संस्कृति बनाई एवं उनसे जुड़े स्मारकों के उद्धार करने का बीड़ा उठाया।

अमित शाह सपा, बसपा और कांग्रेस ने बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर और उनसे जुड़े हुए सात महत्त्वपूर्ण स्थानों के उद्धार के लिए क्या किया। अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत पर सबको साथ लेकर विकास करना चाहते हैं। अमित शाह यूपी का विकास भारतीय जनता पार्टी के अलावे कोई और नहीं कर सकता। अमित शाह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भाजपा सरकार की सभी योजनाओं के केंद्र में देश के दलित पिछड़े और गरीब ही हैं।

अमित शाह बौद्ध भिक्षुओं की यह धम्म चेतना यात्रा विफल नहीं जायेगी। यह यात्रा निश्चित रूप से यूपी में परिवर्तन लायेगी। कमल खिलायेगी और हर घर में सुख एवं शांति छायेगी। अमित शाह भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज वृजेन्द्र स्वरूप पार्क कानपुर में आयोजित धम्म चेतना यात्रा के समापन समारोह में भाग लिया और दलित एवं वंचित समाज में धार्मिक आर्थिक शैक्षणिक सामाजिक और राजनैतिक चेतना पैदा करने के उद्देश्य से भदंत धम्मविर्यो के सान्निध में निकाली गई इस यात्रा में शामिल बौद्ध भिक्षुओं को साधुवाद दिया।

70,300 किमी की पूरी की यात्रा
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जिस ऊर्जा के साथ 70300 किमी से अधिक की यात्रा पूरी की गई और भगवान् बुद्ध एवं उनके विचारों को धरा पर उतारने का प्रयास किया गयाए मैं उस ऊर्जा और उत्साह को शत.शत नमन करता हूँ। उन्होंने कहा कि बहुजन समाज के विकास के लिए श्री कांशीराम के नेतृत्त्व में आंदोलन चला जिसे भदंत धम्मविर्यो का भी आशीर्वाद प्राप्त था लेकिन यूपी में बहुजन समाज पार्टी की सरकार बनने के बाद उन्हें भी निराशा ही हाथ लगी। उन्होंने कहा कि दलित गरीब व पिछड़ों के कल्याण एवं भगवान् बुद्ध के विचारों को जमीन पर उतारने के उद्देश्य के साथ बहुजन समाज पार्टी की सरकार तो बनी लेकिन इसका परिणाम क्या हुआ। दलित गरीब और पिछड़े तो वहीं के वहीं रह गएए हाँए बहन मायावती की संपत्ति जरूर कई गुना बढ़ गई।

शाह ने कहा कि 10 सालों तक केंद्र में मायावती के समर्थन से कांग्रेस में यूपीए की सरकार चली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की राज्य सरकारें हो अथवा केंद्र की सरकारेंए सबने बाबा साहब को सम्मानित करने का काम कियाए उनके विचारों को सरकार की संस्कृति बनाई एवं उनसे जुड़े स्मारकों के उद्धार करने का बीड़ा उठाया।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मायावती जी खुद को दलितों की सबसे बड़ी हितैषी होने का दंभ भरती हैंए कांग्रेस और सपा भी ऐसा ही दावा करती है लेकिन मैं उत्तर प्रदेश की जनता से पूछना चाहता हूँ कि इन्होंने भारत रत्न बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के लिए और उनसे जुड़े हुए सात महत्त्वपूर्ण स्थानों के उद्धार के लिए क्या किया उन्होंने कहा कि बाबा साहब से जुड़े इन महत्त्वपूर्ण स्थलों का उद्धार न तो कांग्रेस ने किया और न ही सपा या बसपा ने। उन्होंने कहा कि बाबा साहब के जन्म स्थान मऊए शिक्षा स्थल लंदन संकल्प भूमि वड़ोदरा दीक्षा भूमि नागपुर परिनिर्वाण भूमि अलीपुर रोड और समाधि स्थल इंदु मिल्स परिसरए मुंबई। इन सभी जगहों पर भव्य समारक बनाने का काम भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और राज्य सरकारों ने ही किया है।

उन्होंने कहा कि देश के लोकतंत्र के मंदिर संसद भवन के अंदर बाबा साहब का तैल चित्र लगाने का काम भी भाजपा की अटल बिहारी वाजपयी सरकार ने ही किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब की 125वीं जन्म जयंती पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ही उनकी याद में सिक्का निकालने और स्टाम्प टिकट जारी करने का काम किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब के योगदान को याद करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर बाबा साहब को श्रद्धांजलि देने के लिए संसद के अंदर एक दिन का विशेष सत्र भी आयोजित किया गया।

शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश की बदहाल क़ानून व्यवस्था से समाजवादी पार्टी की सरकार नहीं निपट सकती। अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि जो अपने घर को संभाल नहीं सकतेए वह प्रदेश को भला क्या संभालेंगें। बसपा सुप्रीमो मायावती पर करारा प्रहार करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बहन मायावती को पहले यह बताना चाहिए कांशीराम जी ने जब उनको अपना वारिस घोषित किया थाए तब उनकी और उनके भाई की संपत्ति कितनी थी और आज उनकी संपत्ति कितनी है।
 
उन्होंने जोर देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश का विकास भारतीय जनता पार्टी के अलावे कोई और नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की भाजपा नीत एनडीए सरकार की सभी योजनाओं के केंद्र में देश के दलितए पिछड़े और गरीब ही हैं। चाहे वह प्रधानमंत्री मुद्रा योजना हो प्रधानमंत्री जनधन बीमा योजना होए उज्ज्वला योजना होए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हो या फिर अन्य योजनायें। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश और गाँवए गरीब एवं किसान का विकास यदि कोई कर सकते हैं तो वे केवल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर सकते हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.