Modi_May26आखिरकार आ ही गई नमो की सरकार। जी हां नमो ने अपने मंत्रिमंडल सहित अपनी सरकार का शंखनाद किया। पूरे देश को नमो का जाप करवाने वाले नरेन्द्र मोदी ने शपथ ले कर अपने देश की जनता का इंतजार समाप्त किया। उनके नेतृत्व में राजग सरकार में 45 मंत्री हैं। इस बार के लोकसभा चुनावों ने 30 साल बाद स्पष्ट बहुमत के साथ कोई सरकार दी है। मोदी ने भाजपा को अकेले दम पर विजय दिलायी। 63 वर्षीय मोदी देश के 15वें प्रधानमंत्री बने। राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में 3000 से अधिक लोगों की मौजूदगी में हुए भव्य समारोह में उन्हें और उनकी मंत्रिपरिषद के सदस्यों को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शपथ दिलायी। राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, एम वेंकैया नायडू, नितिन गडकरी, उमा भारती, मेनका गांधी, अनंत कुमार, रवि शंकर प्रसाद, स्मृति ईरानी और हर्षवर्धन ने कैबिनेट मंत्रियों के रूप में शपथ ली। सहयोगी दलों में से लोजपा के राम विलास पासवान, शिरोमणि अकाली दल से हरसिमरत कौर, शिवसेना से अनंत गीते और तेदेपा से अशोक गजपति राजू ने बतौर कैबिनेट मंत्री शपथ ली। राजनीति, उद्योग, सिनेमा और धार्मिक क्षेत्र की नामचीन हस्तियां, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सहित दक्षेस देशों के नेता मोदी के शपथ ग्रहण समारोह के साक्षी बने । मोदी ने पद एवं गोपनीयता की शपथ हिन्दी में ली। उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, निवर्तमान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी पी चिदंबरम, शरद पवार, प्रफुल्ल पटेल और पल्लम राजू, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, निवर्तमान लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम, प्रतिभा पाटिल भी समारोह में शामिल हुए। सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव, उनके पुत्र उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, बिहार के मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुडडा भी समारोह में आये। देश के जाने माने उद्योगपति मुकेश अंबानी सपरिवार, उनके भाई अनिल अंबानी, कुमार मंगलम बिडला, शशि रूइया, गौतम अडानी और वी एन धूत, फिल्मी हस्तियों में सलमान खान पिता सलीम खान सहित, विवेक ओबराय, धर्मेन्द्र, अनुपम खेर, गीतकार जावेद अख्तर भी इस ऐतिहासिक पल के गवाह बने। कई हिन्दू साधू संत भी समारोह में शामिल हुए। इनमें पेजावर मठ के प्रमुख विश्वेन्द्र तीर्थ स्वामी शामिल हैं । क्रिकेट जगत से सुनील गावस्कर मौजूद थे। श्रीलंका के राष्ट्रपति महिन्दा राजपक्षे, अफगान राष्ट्रपति हामिद करजई और मारीशस के राष्ट्रपति नवीन चंद्र रामगुलाम समारोह में उपस्थित थे। शपथ ग्रहण समारोह करीब 90 मिनट चला। इसके बाद मोदी और उनकी मंत्रिपरिषद के सदस्यों ने राष्ट्रपति के साथ सामूहिक फोटो खिंचाया । फिर मोदी ने पडोसी देशों से आये राष्ट्राध्यक्षों और नेताओं से हाथ मिलाया। मोदी ने निवर्तमान प्रधानमंत्री का अभिवादन किया । इसके तुरंत बाद समारोह स्थल पर अव्यवस्था सी फैल गयी, क्योंकि हर कोई नया मंत्री प्रधानमंत्री से मिलना चाह रहा था। भाजपा के जिन अन्य सांसदों ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली, उनमें गोपीनाथ मुंडे, सदानंद गौडा, कलराज मिश्र, नजमा हेपतुल्ला, नरेन्द्र सिंह तोमर, जुएल ओराम, राधा मोहन सिंह और थावर चंद गहलोत शामिल हैं। पूर्व सेना प्रमुख जनरल वी के सिंह को बतौर राज्य मंत्री :स्वतंत्र प्रभार: मंत्रिपरिषद में जगह दी गयी। स्वतंत्र प्रभार वाले अन्य राज्य मंत्रियों में राव इंद्रजीत सिंह, संतोष कुमार गंगवार, श्रीपद येसो नायक, धर्मेन्द्र प्रधान, सरबानंद सोनवाल, प्रकाश जावडेकर, पीयूष गोयल, जितेन्द्र सिंह और निर्मला सीतारमण शामिल हैं। राज्य मंत्रियों के रूप में 12 सांसदों ने शपथ ली । इनमें जी एम सिद्धेश्वर, मनोज सिन्हा, निहाल चंद, उपेन्द्र कुशवाहा, पी राधाकष्णन, किरन रिजिजु, कष्णपाल, संजीव कुमार बालियां, मनसुखभाई वासवा, राव साहेब दानवे, विष्णुदेव साई और सुदर्शन भगत शामिल हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.