15septshivमुंबई। उपचुनाव में बीजेपी की हार के बाद सहयोगी दल शिवसेना ने भी उसे आड़े हाथों लिया है। शिवसेना ने कहा कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए ये एक बड़ा सबक है। शिवसेना ने अपने मुखमत्र सामना में लिखा है कि अपने पैर जमीन पर रखें, जीत का उन्माद न चढ़ने दें और हवा पर सवार होकर तलवारबाजी मत कीजिए। ये नतीजे बताते हैं कि लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में फर्क होता है।
सामना में आगे लिखा है कि ‘लव जेहाद’ का मुद्दा भी काम नहीं आया। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्य नाथ ने लव जेहाद का मुद्दा उठाया, लेकिन उसका परिणाम अच्छा नहीं हुआ। हालांकि लेख में ये भी लिखा है कि उपचुनाव को मोदी से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए, मोदी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना काम ठीक से कर रहे हैं। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सीटों को लेकर बीजेपी और शिवेसना के बीच तनातनी चल रही है। बीजेपी ने इस चुनाव में 135 सीटें चाहती है, जबकि शिवसेना खुद 150 सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारने के लिए अड़ी है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के प्रस्ताव को खारिज करते हुए साफ कर दिया था कि बीजेपी को 135 सीटें देना संभव नहीं है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.