राजस्थान में सियासी संकट बरकार है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट खेमे के विधायक दो अलग-अलग  होटल में बंद हैं। इस बीच पायलट का ट्वीट सामने आया है, जिसमें उन्होंने सभी भारतीयों से असम तथा बिहार के बाढ़ पीड़ितों की मदद के प्रयासों में योगदान देने की अपील की।

आपको बता दें कि राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ खुलकर सामने आने के बाद शुरू हुई सियासी उठापटक के बीच पायलट को उपमुख्यमंत्री पद तथा प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था।

पायलट ने ट्वीट किया कि असम तथा बिहार में बाढ़ से प्रभावित परिवारों के लिए मैं प्रार्थना करता हूं। सिर्फ असम में ही 68 से अधिक लोगों की मौत हो गई तथा 36 लाख लोग प्रभावित हैं। उन्होंने कहा, मैं सभी भारतीयों से अपील करता हूं कि वे एक साथ आएं, इन अत्यधिक बाढ़ की स्थितियों में प्रभावित लोगों की मदद के प्रयासों में शामिल हों। पिछले चार दिनों में पायलट का यह पहला ट्वीट है।

राज्यपाल से मिले CM अशोक गहलोत
राजस्थान में राजनीतिक संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार (18 जुलाई) को राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात की। यह बैठक करीब 45 मिनट तक चली। इस दौरान सीएम गहलोत ने राज्यपाल को प्रदेश में कोरोना वायरस के खिलाफ सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों की जानकारी दी।

ऑडियो टेप मामले में एसीबी ने दर्ज की शिकायत
राजस्थान के ऑडियो टेप मामले में राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) के बाद अब भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने भी एक प्राथमिकी दर्ज की है। बृहस्पतिवार (16 जुलाई) रात सामने आए ऑडियो टेप में कथित तौर पर राज्य की कांग्रेस सरकार को गिराने के लिए विधायकों की खरीद फरोख्त की बात की जा रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.