सड़क हादसे में मारी गई बुलंदशहर की छात्रा सुदीक्षा भाटी पर बसपा प्रमुख मायावती ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि सुदीक्षा की मौत मनचलों की वजह से हुई है। मायावती ने कहा कि वह अपने चाचा के साथ बाइक से जा रही थी। लेकिन मनचलों की वजह से सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई। वह एक होनहार छात्रा थी।

मायावती ने आगे लिखा कि यह अति- शर्मनाक और अति-निन्दनीय घटना है। बीसएपी की मांग है कि यूपी सरकार  इस मामले में तुरंत दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करे। मायावती ने कहा कि परिजनों से बात करने पर मालूम पड़ा है कि 20 अगस्त को सुदीक्षा भाटी को अमेरिका वापस लौटना था।

आपको बता दें कि सोमवार को गौतमबुद्धनगर के दादरी की रहने वाली सुदीक्षा अपने चाचा के साथ बाइक से मामा के घर जा रही थी। चाचा सतेंद्र भाटी ने बताया कि बुलंदशहर- औरांगबाद रोड पर एक बुलेट सवार ने कई ओवर टेक किया और अचानक आगे कर रुक गया जिससे बाइक बेकाबू होकर टकरा गई। हादसे में छात्रा सुदीपा की मौके पर ही मौत हो गई।

इंटर टॉपर सुदीक्षा बेहद साधारण परिवार से थी। सुदीक्षा भाटी ने अपनी मेहनत के बलबूते अमेरिका के बॉबसन कॉलेज से भारी-भरकम स्कॉलरशिप हासिल की थी। सुदीक्षा ने 5वीं तक की पढ़ाई डेरी स्टनर गांव के प्राइमरी स्कूल से की थी। पढ़ाई में शुरू से ही अव्वल सुदीक्षा का चयन साल 2011 में विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी स्कूल में कक्षा 6 के लिए हुआ।

डेरी स्कनर गांव के रहने वाले चाय विक्रेता जितेंद्र भाटी की बेटी सुदीक्षा भाटी ने एचसीएल फाउंडेशन के स्कूल विद्या ज्ञान से आगे की पढ़ाई की थी। 2018 की सीबीएसई बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में सुदीक्षा ने 98 प्रतिशत अंक हासिल किए. फिर सुदीक्षा को अमेरिका के बॉबसन कॉलेज से आगे की पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप मिली।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.