महाराष्ट्र कोर कमेटी की सदस्य और विधायक पंकजा मुंडे ने यहां संवाददाताओं से कहा कि पार्टी कार्यकर्ता उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं। यदि जिम्मेदारी मिली तो स्वीकार करूंगी, लेकिन फैसला पार्टी को करना है जिसे में स्वीकार करूंगी।

munde

उन्होंने कहा, ‘जो लोग मेरे पिता (दिवंगत गोपीनाथ मुंडे) को मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते थे, वे अब मांग कर रहे हैं कि मुझे मुख्यमंत्री बनना चाहिए। न केवल मेरे पिता के समर्थक, बल्कि राज्य के युवा भी मुझे मुख्यमंत्री बनते हुए देखना चाहते हैं।’

पंकजा ने कहा, ‘मैंने कभी मुख्यमंत्री पद की इच्छा नहीं की। यह पार्टी कार्यकर्ताओं की भावना है। पार्टी जो फैसला करेगी, मैं उसका पालन करुंगी।’

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री कौन बनेगा यह सबसे बड़ा सवाल है। तीन नाम प्रमुखता से लिए जाने हैं। नितिन गडकरी, महाराष्ट्र अध्यक्ष देवेंद्र फडनवीस और दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की पुत्री पंकजा मुंडे।

महाराष्ट्र में चुनाव बाद सर्वेक्षण के नतीजों में भाजपा के सत्ता में आने के पूर्वानुमानों के बीच पार्टी की प्रदेश इकाई के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इस पर अंतिम फैसला पार्टी का संसदीय बोर्ड करेगा।

विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष विनोद तावड़े ने कहा, ‘मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इस बारे में अंतिम फैसला संसदीय बोर्ड निर्वाचित विधायकों की सिफारिश वाले उम्मीदवारों के नाम पर विचार करके करेगा।’ प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी के सदस्य तावड़े ने शुक्रवार को कहा, ‘भाजपा के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार को लेकर अटकलें हैं। हालांकि मुख्यमंत्री के पद को लेकर कोई दौड़ नहीं है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.