पटना: बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान होते ही सभी पार्टियों ने अपना घोषणा पत्र जारी करना शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में, लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) और कांग्रेस ने बुधवार को पटना में अपना घोषणा पत्र जारी किया। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान अपना बहुप्रतीक्षित विजन डॉक्यूमेंट पटना के पार्टी ऑफिस में लॉन्च कर दिया है। चिराग के इस विजन डॉक्यूमेंट का नाम जो पहले से तय था वही रखा गया है यानि बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट।
इस दौरान चिराग ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 15 साल पर तीखा हमला किया है। चिराग ने इस विजन डॉक्यूमेंट को अपने दिवंगत पिता रामविलास पासवान को भी समर्पित किया है। घोषणापत्र जारी करते हुए चिराग पासवान ने कहा, मौजूदा मुख्यमंत्री को देखकर मुझे आश्चर्य होता है कि आप किस तरह से जातीयता को बढ़ावा देते हैं। जो व्यक्ति खुद सांप्रदायिकता को बढ़ावा देता हो, उसके नेतृत्व में बिहार के विकास की कल्पना करना उचित नहीं है।
लोजपा के घोषणा पत्र ‘बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट’ विजन डाक्यूमेंट को लॉन्च करते हुए चिराग ने कहा कि ये उनके पिता रामविलास पासवान के 51 साल के राजनीतिक अनुभव से तैयार किया गया है। लगे हाथ चिराग पासवान ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि 15 साल से सत्ता में रहने के बाद भी वो नली-गली और खेत में पानी पहुंचाने का वादा कर रहे हैं। जब यही करना था तो बीते 15 साल में क्या किया. बिहार में रोजगार के लिए क्या किया? बिहार को सशक्त करने के लिए क्या किया? आज की तारीख में विकास के हर मापदंड में देश के बाकी राज्यों के मुकाबले सबसे ज्यादा है। पलायन और बाढ जैसे मुद्दों के लिए कुछ नहीं किया गया।
अपने विजन डाक्‍यूमेंट को जारी करते हुए चिराग ने कहा कि ‘बिहार फर्स्‍ट बिहारी फर्स्‍ट’ विजन डाक्‍यूमेंट को बनाने में चार लाख बिहारियों की राय ली गई। इसे बनाने में पिता रामविलास पासवान की भी अहम भूमिका रही। इसमें बिहार की शायद ही कोई समस्‍या की चर्चा नहीं हुई हो। चिराग ने कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में उद्योग-धंधों की कमी को लेकर इसके लैंडलॉक होने की बात करते आ रहे हैं। फिर इसी तरह के लैंड लॉक राज्यों पंजाब और हरियाणा में इतना औद्योगिक विकास कैसे हुआ? चिराग ने चुनौती भरे लहजे में कहा कि मैं शेर का बच्चा हूं और जंगल को अकेले चीरने निकला हूं।
उन्होंने कहा कि गीदड़ का बच्चा होने पर आदमी मारा जाता है। विजन डॉक्यूमेंट की जानकारी देते हुए रामविलास पासवान के पुत्र ने कहा कि इस विजन में चार लाख से ज्यादा बिहारियों के विचार को रखा गया है और मेरे पिता रामविलास पासवान का पूरा अनुभव इसमें शामिल है। चिराग ने कहा कि बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट में सभी की समस्याएं शामिल है, लेकिन कोई ऐसी समस्या नहीं है जिसका हल इसमें शामिल नहीं हो।
नीतीश कुमार पर हमला बोलेते हुए चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार विकास की बात करते हैं, पर जाति की ही बात करते हैं। दलित की हत्या पर नौकरी देने की बात पर तंज कसते हुए पूछा कि जब किसी की हत्या हो ही जाएगी फिर नौकरी देकर क्या करेंगे। चिराग ने कहा कि वो देश को तोड़ने वाले लोगों को साथ लेकर घूमते हैं। बिहार में कारखाने नहीं लगने के लिए नीतीश कुमार हास्यास्पद बहाने कर रहे हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.