कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि चीन ने भारत में घुसने और हमारे सैनिकों को मारने की हिम्मत की, क्योंकि नरेंद्र मोदी सरकार ने अपनी ‘देश विरोधी नीतियों और कार्यों’ से देश को कमजोर कर दिया है। राहुल ने कहा कि कृषि कानून इसका नवीनतम उदाहरण है। कांग्रेस नेता ने कहा, “चीन ने महसूस किया कि मोदी ने भारत को कमजोर कर दिया है और उसने हमारी जमीन के 1,200 किलोमीटर के क्षेत्र पर अपना नियंत्रण स्थापित करने के लिए इसी बात का फायदा उठाया।”
राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के आर्थिक विकास की रीढ़ तोड़ दी है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के समय अर्थव्यवस्था की विकास दर जहां नौ प्रतिशत थी, वहीं अब यह माइनस 24 प्रतिशत पर आ चुकी है। पीएम मोदी पर अपने पूंजीवादी और उद्योगपति मित्रों की मदद करते हुए देश को बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए, राहुल ने कहा कि भारत पीछे की ओर जा रहा है, जिसे चीनियों ने देखा है।
राहुल ने पूछा, “चीन ने आखिर हमारे क्षेत्र में प्रवेश करने की हिम्मत क्यों की? वे हमारे सैनिकों में से 20 को कैसे मार सकते हैं, जो एलएसी पर हमारी तरफ थे?” सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव का हवाला देते हुए राहुल ने कहा कि सच्चाई कभी छुप नहीं सकती है। उन्होंने कहा, “अगर हम आज सच्चाई का सामना नहीं करेंगे तो हमें भुगतना पड़ेगा।”
यह इंगित करते हुए कि गुरु नानक देव ने सच्चाई का मार्ग दिखाया, उन्होंने लोगों, विशेष रूप से किसानों को उस मार्ग का अनुसरण करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि पंजाब के किसान कोई सामान्य व्यक्ति नहीं हैं, बल्कि वह तो देश की रीढ़ हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, “आप चुप क्यों हैं? हरियाणा शांत क्यों है? पंजाब के शेर क्यों नहीं गरज रहे हैं?”
राहुल ने लोगों से आह्वान किया कि वे केंद्र के अत्याचार के खिलाफ आगे आएं। उन्होंने जोर देकर कहा कि वह हर कदम पर उनके साथ हैं। राहुल ने कहा कि अगर मोदी को किसानों और गरीबों की ताकत का एहसास नहीं होता है, तो हम मिलकर उन्हें यह ताकत दिखाएंगे। उन्होंने कॉर्पोरेट घरानों के माध्यम से मीडिया को नियंत्रित करने के लिए मोदी सरकार पर निशाना साधा। राहुल ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के साथ ‘खेती बचाओ यात्रा’ के तहत एक रैली को संबोधित करते हुए यह बातें कही। राहुल ने लोगों को याद दिलाया कि मोदी ने दावा किया था कि महामारी के खिलाफ युद्ध 22 दिनों में जीत लिया जाएगा। उन्होंने पूछा, “क्या ऐसा हुआ? अगर ऐसा है, तो लोग मास्क क्यों पहने हैं?

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.