M_Id_399750_Narendra_Modiझारखण्ड के लोहरदगा में मोदी ने भारत विजय रैली को सम्बोधित करते हुये पहते तो समूचे जन समूह का अभिवादन स्वीकार किया फिर भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर तीखा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री पद के लिए भाजपा के उम्मीदवार कांग्रेस पर अपने घोषणापत्र में गलत वायदा करने का आरोप लगाया और आदिवासियों को अपने साथ लाने का प्रयास करते हुए याद दिलाया कि भाजपा नीत सरकार ने झारखंड का गठन किया और उनके लिए समर्पित मंत्रालय का गठन किया।
खानों की बहुलता वाले इस राज्य में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए नरेन्द्र मोदी ने आरोप लगाया कि भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने पृथक झारखंड राज्य के गठन की मांग का उपहास किया था। उन्होंने उर्जा परियोजनाओं को मंजूरी देने में कथित भ्रष्टाचार पर संप्रग सरकार को आड़े हाथों लिया और पूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन पर हमला करते हुए जयंती टैक्स विशेषण का उपयोग करते हुए चुटकी ली।
मोदी ने कहा कि कल कांग्रेस पार्टी ने अपना घोषणापत्र जारी किया है। राजनीतिक दलों के लिए घोषणापत्र गीता, कुरान और बाइबल के समान होना चाहिए और किसी ऐसे दस्तावेज की तरह नहीं होना चाहिए जो लोगों की आंखों में धूल झोंके। कांग्रेस पार्टी ने घोषणापत्र को राजनीतिक हथियार बना दिया है और इसकी पवित्रता को बरकरार नहीं रखा है।
लोग को संबोधित करते हुए उन्होंने पूछा कि क्या वे कांग्रेस की बातों या उनके घोषणापत्र के गलत वायदों पर भरोसा करते हैं। मोदी ने कहा कि उन्होंने 2004 और 2009 में भी वायदे किये थे। उन्होंने कहा था कि वे कीमतों को घटा देंगे और हर परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार देंगे। क्या उन्होंने रोजगार दिया
मोदी ने इस अवसर पर चुनाव आयोग से आग्रह किया कि ऐसा नियम बनाया जाना चाहिए कि जिसके तहत सत्ता में आने वाली पार्टी को यह बताने को कहा जाए कि सत्ता में रहते हुए उन्होंने अपने घोषणापत्र के कितने वायदे पूरे किये। उन्होंने कांग्रेस पर आदिवासियों के हितों को नजरंदाज करने का आरोप लगाया।
आगे कहा कि कांग्रेस के लोगों को इस बात का पता ही नहीं है कि हमारे देश में आदिवासी भाई और बहन भी रहते हैं। पिछले छह दशकों में कई कांग्रेसी सरकारें आई। नेहरू प्रधानमंत्री बने। लेकिन उन्होंने आदिवासियों के कल्याण के लिए मंत्रालय के गठन के बारे में नहीं सोचा।
मोदी ने कहा कि राजग के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने आदिवसियों के लिए समर्पित मंत्रालय बनाया और अलग से बजट दिया। नरेंद्र मोदी की बिहार में आज दो चुनावी रैलियों से पहले माओवादियों ने गया जिले के दो इलाकों में शक्तिशाली बम विस्फोट करके दो मोबाइल टॉवर उड़ा दिए। पुलिस अधीक्षक निशांत तिवारी ने बताया कि इलाकों में कल देर रात करीब सौ माओवादी एकत्र हुए और उन्होंने मंक्षावली एवं डुमरिया बाजार गांवों में शक्तिशाली बम विस्फोट करके एक निजी कंपनी के दो मोबाइल टॉवर उड़ा दिए।
मओओवादियो ने हाल में चतरा में उनके 10 साथियों के मारे जाने के खिलाफ राज्य के दक्षिण मध्य हिस्से के माओवाद प्रभावित जिलों में बंद का आहवान किया है। मोदी आज दोपहर माओवाद प्रभावित सासाराम और गया में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करने वाले है। पुलिस महानिदेशक अभयानंद ने कहा कि हमने माओवादियों एवं आतंकवादियों के सभी प्रकार के खतरों का पूर्वानुमान लगा लिया है। इसी अनुसार सुरक्षा के प्रबंध किए जा रहे हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.