mulayam

समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने शनिवार को एक कार्यक्रम में कहा कि साल 1990 में अपने शासन के दौरान उन्होंने देश की एकता बनाए रखने के लिये ही अयोध्या में कारसेवकों पर गोली चलाने का आदेश दिया था।

मुलायम सिंह यादव ने यहां अपने जीवन पर लिखी एक किताब के विमोचन अवसर पर कहा कि वर्ष 1990 में कारसेवकों पर गोली चलाने का आदेश देना देशहित में था। उस वक्त गोली चलने से 16 लोगों की मौत हो गई थी, अगर इसमें और लोगों की जान जाती तो भी देश की एकता के लिए उन्हें यह मंजूर होता। सपा प्रमुख ने कहा ‘अगर मैं गोली चलाने का आदेश ना देता तो देश से मुसलमानों का विश्वास उठ जाता। गोली चलवाने का आदेश देने के कारण हमने मुसलमानों को देश से जाने से रोका।’

बयान के बाद आरएसएस के प्रचारक और राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संयोजक इंद्रेश कुमार ने अयोध्या आंदोलन के कारसेवकों से जुड़े बयान मुलायम सिंह के दिए बयान के बाद उन्हें आड़े हाथों लिया। इंद्रेश कुमार ने मुलायम को खूंखार अपराधी और हत्यारा तक कह डाला।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.