bjpनई दिल्ली। दिल्ली में नई सरकार के गठन की सुगबुगाहट के बीच बीजेपी ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया है। बीजेपी ने कहा है कि आम आदमी पार्टी उस पर उप राज्यपाल के जरिए दिल्ली की सरकार चलाने का निराधार आरोप लगाती है। हकीकत ये है कि दिल्ली की 11 जिलों की विकास समितियों में से 9 पर आम आदमी पार्टी के विधायकों का कब्जा है।
बुधवार को बीजेपी ने प्रेस कांफ्रेंस करके आम आदमी और कांग्रेस को जमकर कोसा। बीजेपी के मुताबिक अरविंद केजरीवाल की सरकार में 11 जिलों की विकास समितियों में से 9 पर आम आदमी पार्टी के विधायकों को चेयरमैन बनाया गया था। वे अभी भी सरकारी कार, टेलीफोन और सरकारी स्टाफ जैसी सुविधाओं का लाभ उठा रहे हैं। बीजेपी के मुताबिक विकास कमेटियों के तहत जिलाधिकारी, सचिव और दूसरे अधिकारी काम करते हैं। ये बताता है कि आम आदमी पार्टी के नेता ही परोक्ष रूप से दिल्ली में सरकार चला रहे हैं।
वैसे, बीजेपी ने कांग्रेस पर भी हमला बोला है। बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस नेताओं ने भी बीजेपी पर पिछले दरवाजे से सरकार चलाने का आरोप लगाया था, लेकिन हकीकत ये है कि दिल्ली सरकार के महत्वपूर्ण पदों पर कांग्रेस के नेता ही काबिज हैं। दिल्ली महिला आयोग, दिल्ली बाल आयोग, एससीएसटी कमीशन और वक्फ बोर्ड के अहम पदों पर शीला सरकार के दौरान नियुक्त लोग अब भी जमे हुए हैं।
बीजेपी का कांग्रेस और बीजेपी पर यह कड़ा हमला उस वक्त सामने आया है जब दिल्ली में सरकार गठन को लेकर दोनों ही पार्टियां, बीजेपी पर निशाना साध रही हैं। उनका आरोप है कि बीजेपी, उपराज्यपाल का अपने फायदे के लिए इस्तेमाल कर रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.