पाक एक बार फिर बम के धमाकों से दहल गया। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत में आतंकियों द्वारा चरसड्डा कोर्ट के बाहर किए गए आत्मघाती विस्फोट और गोलीबारी में कम से कम छह लोग मारे गए और 14 लोग घायल हो गए। इस हमले की जिम्मेदारी तहरीक-ए-तालिबान से अलग हुए जमात-उल-अहरार ने ली है। अमेरिका ने 2016 में जमात-उल-अहरार को वैश्विक आतंकी संगठन की सूची में शामिल किया था।

पुलिस के मुताबिक कोर्ट के बाहर विस्फोटों के बाद आतंकियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की। सुरक्षा बलों और पुलिसकर्मियों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है। चरसड्डा के पुलिस उपायुक्त ने बताया कि सुरक्षा को हाई अलर्ट पर रखा गया है। पाकिस्तान में बीते एक हफ्ते में कई फिदायीन हमले हुए हैं जिसमें सौ से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

स्थानीय प्रशासन के मुताबिक, तीन हमलावरों ने मुख्य दरवाजे से कोर्ट में घुसने की कोशिश की। कोर्ट के गेट पर ही उन्होंने फायरिंग शुरू करते हुए ग्रेनेड उछाला। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक फिदायीन को वहीं मार गिराया। जबकि दूसरे को कोर्ट परिसर के भीतर मार गिराया गया। तीसरे बम हमलावर ने खुद को विस्फोटकों से उड़ा लिया।

चारसददा के उपायुक्त ने कहा कि न्यायाधीश और वकील सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि कड़ी सुरक्षा के कारण बम हमलावर अदालत में दाखिल नहीं हो सके। लेकिन वे परिसर में दाखिल हो गए, जो कि तबाहीपूर्ण हो सकता था। उन्होंने कहा कि खोजी और बचाव अभियान जारी है। एंबुलेंस पेशावर से लगभग 30 किमी दूर चारसददा तक पहुंच गई थीं। लेडी रीडिंग अस्पताल को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

पाकिस्तान में हाल के समय में हुए विभिन्न आतंकी हमलों के कारण सुरक्षा कड़ी की गई है। हालिया हमला पिछले कुछ समय में हुए हमलों की कड़ी का हिस्सा है। इन हमलों में 100 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।

गौरतलब हो कि गुरूवार को भी आत्मघाती हमलावर ने सिंध प्रांत की मशहूर सूफी दरगाह में 88 लोगों को मार डाला था। इस हमले के बाद सेना ने आतंकियों के खिलाफ अभियान शुरू किया और देशभर में 130 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराने का दावा किया। पिछले साल मार्च में चारसददा के शब्कादर इलाके में एक स्थानीय अदालत पर आत्मघाती बम हमलावर ने हमला बोला था और 17 लोगों को मार डाला था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.