pratyushaनई दिल्ली। राहुल राज सिंह पर आरोप है कि उन्होंने प्रत्यूषा बनर्जी को आत्महत्या करने के लिए उकसाया। मामला कोर्ट में है, लेकिन शुक्रवार को खबर आई कि, राहुल प्रत्यूषा को वेश्वावृत्ति में धकेलना चाहता था। राहुल और प्रत्यूषा के आखिरी फोन कॉल की बातचीत के आधार पर प्रत्यूषा के पिता शंकर बनर्जी के वकील नीरज गुप्ता ने आरोप लगाया है कि राहुल उसे वेश्यावृत्ति में धकेलना चाहता था। इस पर राहुल ने सफाई पेश करते हुये कहा कि, प्रत्यूषा के पिता ही अपना बेटी को वेश्वा बनाना चाहते थे।

आखिरी फोनकॉल  
राहुल ने जब आखिरी फोन कॉल में प्रत्यूषा बनर्जी को किया तो प्रत्यूषा ने कहा कि, मैं यहां खुद को बेचने नहीं आई थी। यहां मैं अभिनय करने आई थी। तुमने मुझे ये कहां धकेल दिया है। राहुल तुम्हें इस बात का अंदाजा नहीं है कि इस समय मैं कितना बुरा महसूस कर रही हूं। प्रत्यूषा की बातों से लग रहा है कि, उसे वेश्वावृत्ति की ओर धकेलने की कोशिश की जा रही है। साथ ही यह भी लग रहा है कि प्रत्यूषा काफी परेशान हैं।

पिता ने कहा वेश्वा
मामला बॉम्बे हाइकोर्ट में है और चार्जशीट भी फाइल हो गई है। मुझ पर लगाए जा रहे, सभी आरोप गलत हैं। आप चार्जशीट देखेंगे, तो आपको यकीन हो जाएगा कि मुझ पर लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। चार्जशीट में साफ लिखा है कि प्रत्यूषा के पिता ने ही उन्हें वेश्या कहा था। इससे प्रत्यूषा बेहद नाराज थीं। हालांकि मैंने उसे कहा था कि लोगों की बुराई को एंज्वॉय कीजिए। लेकिन उसने कहा था कि उसे वेश्या कहने वाले उसके पिता हैं।

1 अप्रैल को की सुसाइड
बता दें कि टीवी सीरियल ‘बालिका वधु’ से लोकप्रिय हुईं प्रत्युषा बनर्जी ने 1 अप्रैल को अपने गोरेगांव स्थित फ्लैट में सुसाइड कर लिया था, जिसमें वह ब्वॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह के साथ रहती थीं। प्रत्यूषा बनर्जी ने अपने फ्लैट में पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी थी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.