firing

मेरठ। प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। हालत यह है कि बेखौफ अपराधी खाकी को भी निशाना बनाने से नहीं चूक रहे हैं। शराब माफिया के एक गोदाम पर कार्रवाई करने गए सीओ पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी। दरअसल, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े शराब माफिया शहजाद उर्फ पाशा का लोहियानगर के सत्यकाम स्कूल के पास एक गोदाम है।

रविवार रात करीब 12 बजे सीओ किठौर बीएस वीर कुमार को सूचना मिली कि खरखौदा थानाक्षेत्र की बिजली बंबा चौकी के लोहियानगर क्षेत्र में सत्यकाम स्कूल के पास शराब माफिया के गुर्गे ट्रक में भरकर अवैध शराब लाए हैं। एसओ मेडिकल और बिजली बंबा चौकी इंचार्ज को साथ लेकर सीओ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने अपनी गाड़ियां थोड़ी दूर पर खड़ी पैदल ही गोदाम की तरफ बढ़ी। तभी गोदाम पर मौजूद बदमाशों को इसकी भनक लग गई और उन्होंने फायरिंग कर दी। हालांकि, घटना में सीओ बाल-बाल बच गए। पुलिस टीम ने झाड़ियों में लेटकर जवाबी गोलीबारी शुरू कर दी। इस दौरान दोनों ओर से 20 राउंड से अधिक फायरिंग हुई।

बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गए। हालांकि, पुलिस ने अवैध शराब की पेटियों से भरा ट्रक, दो ट्रैक्टर-ट्राली व स्विफ्ट डिजायर कार बरामद की है। वहीं, पुलिस टीम पर फायरिंग खबर मिलते ही विभाग में हड़कंप मच गया। एसएसपी के आदेश पर आनन-फानन एसपी देहात डॉ. प्रवीण रंजन सिंह ने आधा दर्जन थानों की पुलिस के साथ आसपास के जंगलों में सर्च ऑपरेशन चलाया, लेकिन उन्हें नतीजा सिफर रहा। एसपी देहात, सीओ कोतवाली, सीओ ब्रह्मापुरी, सीओ सिविल लाइन, सीओ सदर देहात ने आधा दर्जन थानों की पुलिस के साथ पाशा के लोहियानगर के के-ब्लॉक स्थित दो अन्य गोदामों पर भी छापेमारी की। इनमें से एक में अवैध शराब की 300 तो दूसरे में 150 पेटियां बरामद हुई।

इनके अलावा आसपास के मकानों से भी अवैध शराब की पेटियां बरामद हुईं। बता दें कुछ दिन पूर्व एसएसपी के आदेश पर खरखौदा पुलिस ने पांच हजारी बदमाश व शराब माफिया शहजाद उर्फ पाशा को काजीपुर गांव के पास से गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इस दौरान पाशा के गुर्गे अवैध शराब का काम कर रहे थे। इस संबंध में एसपी देहात डॉ. प्रवीण रंजन सिंह ने बताया कि दबिश के दौरान शराब माफिया पाशा के गुर्गो ने सीओ किठौर और पुलिसकर्मियों पर फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई होने पर गुर्गे भाग गए। करीब एक करोड़ रुपये की अवैध शराब बरामद की गई है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.