संतकबीरनगर। खलीलाबाद थाना कोतवाली अंतर्गत ग्राम पंचायत बरहटा में  करंट की चपेट में आने से  गांव निवासी रामचंद्र  बुरी तरह घायल हो गया  जानकारी होने पर  ग्रामीणों द्वारा  जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।  जहां प्राथमिक उपचार के बाद मरीज की हालत नाजुक देख  डॉक्टरों ने  उसे  गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया  जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। बिजली विभाग की एक छोटी सी लापरवाही से रामचंद्र का जीवन  अधर में लटक गया _ परिवार में  वही कमाने खिलाने वाला था विद्युत विभाग को  उसके द्वारा कई बार  तार हटाने की  अर्जी दी गई लेकिन  विभाग की  लापरवाही  उस पर भारी पड़ गई। 5 नाबालिग बच्चों का पिता आज जीवन मौत की जंग लड़ रहा है वही बुजुर्ग पिता और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल है। ग्रामीणों का कहना है रामचंदर अपने खेत में कार्य करने गया था।महीनों पहले बिजली विभाग के कर्मचारियों द्वारा खम्भे से तार काटकर गिरा दिया गया था।गिरे पड़े तार में अचानक करंट उतर गया जिसकी चपेट में रामचंद्र आ जाने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया पत्नी का आरोप है कि अगर विभाग समय से तार हटा लेता यह दुर्घटना नहीं होती अब हमारे परिवार की परवरिश कैसे होगी एक बड़ा सवाल ?

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.