byke-riderप्रतापगढ़/अमेठी। बाइक सवार सगे भाइयों पर हमले के बाद मंगलवार को प्रतापगढ़ में माहौल बिगड़ गया। घटना प्रतापगढ़ व अमेठी जनपद के बॉर्डर पर होने के कारण दोनों जिलों में तनाव फैल गया। हमलावर व घायल अलग-अलग समुदाय से होने के कारण दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए। बड़ी घटना की आशंका को देखते हुए दोनों जगहों के आला अधिकारी व फोर्स मौके पर मौजूद हैं।

घटनाक्रम के मुताबिक, प्रतापगढ़ के शाहबरी गांव निवासी सूर्यभान व उदयभान सिंह पुत्रगण दुर्गाबक्स सिंह मंगलवार  सुबह नौ बजे के करीब बाइक से अमेठी जा रहे थे। इसी बीच भैंसना गांव के पास घात लगाकर बैठे दूसरे समुदाय के कुछ लोगों ने धारदार हथियार व तमंचे से दोनों पर हमला कर दिया। किसी तरह से दोनों भाई जान बचाकर वहां से भागे। दोनों को घायल अवस्था में सांगीपुर सीएचसी में भर्ती कराया गया है। हालत गंभीर होने पर इलाहबाद के मेडिकल कॉलेज के स्वरूपरानी अस्पताल रेफर कर दिया गया है। भाइयों पर जानलेवा हमले की सूचना के बाद से गांव में दोनों ही समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए हैं। इनके बीच माहौल काफी तनावपूर्ण बना है। अमेठी कोतवाली क्षेत्र के नरैनी मजरे सिलोखर व प्रतापगढ़ के सांगीपुर थाना क्षेत्र के भैसना गांव जिलों की सीमा का गांव है। मौके पर दोनों जिलों के कई थाना की फोर्स डटी है। घटना के बारे में फैजाबाद के कमिश्नर सूर्य प्रकाश मिश्र तथा डीआइजी राकेश साहू ने पूरी जानकारी ली है। अमेठी का नरैनी हिन्दू बहुल गांव है जबकि प्रतापगढ़ का सांगीपुर थानाक्षेत्र का भैसना मुस्लिम बहुल गांव है। घटना के पीछे का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। एक ओर जहां अमेठी कोतवाली क्षेत्र के नरैनी के ग्रामीणों का कहना है कि गांव की सीमा पर हनुमान मंदिर में दर्शन करने आई दो लड़कियों के साथ प्रतापगढ़ के सांगीपुर थानाक्षेत्र के भैसना गांव के समुदाय विशेष के युवकों ने छेड़छाड़ की। जिसका ग्रामीणों ने विरोध किया। इसके बाद मारपीट शुरू हुई। दूसरी तरफ भैसना के ग्रामीणों का कहना है कि नरैनी के कुछ लोगों ने उनके गांव में घुसकर एक घर में आग लगा दी। जिस पर ग्रामीण भड़क उठे। इसी को लेकर दोनों संप्रदाय में बातचीत बढ़ गई। जिसमें दोनों पक्षों से मारपीट शुरू हो गई।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.