प्रधानमंत्री जनता की उम्मीदों के शिखर पर हैं। वह अच्छी तरह से जानते हैं कि जनता उनके एक एक पल पर नजर रख रही है। जहां उसे महंगाई की आंच झुलसाने लगती है वहीं उसे अपने जनादेश पर पछतावा होने लगता है। मोदी जी इस बात को बेहतर जानते हैं शायद इसीलिए उन्होंने अपनी पीड़ा अपने ब्लॉग में जताई है। केंद्र में भाजपा नीत गठबंधन सरकार के एक महीना पूरा होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ब्लॉग लिख कर जनता को धन्यवाद किया है। उन्होंने लिखा है कि जनता से उन्हें जबरदस्त सहयोग और प्यार मिल रहा है। मोदी ने आगे लिखा कि मुझे 100 दिनों के हनीमून पीरियड का सुख नहीं मिला।
मोदी ने लिखा इस दौरान हमें जनता का जबरदस्त सहयोग और प्रेम मिल रहा है जिससे हमें काम करने की प्रेरणा मिल रही है। इससे हम कठिन परिश्रम करने के लिए प्रेरित हुए है। मोदी ने अपनी सरकार का बचाव करते हुए लिखा कि पिछले 60 वर्षो की सरकारों के कार्यकाल के मुकाबले यह एक माह कुछ भी नहीं है। इसलिए इसकी तुलना बेमानी है।
उन्होंने आगे लिखा.इस एक माह में हमारी सरकार ने हमेशा जनहित के बारे में सोचा और उसके लिए कार्य किया। हमने सारे निर्णय राष्ट्र हित को ध्यान में रखकर किए।
मोदी के अनुसार उन्होंने सहयोगियों के सामूहिक अनुभव से काफी कुछ सीख लिया है। साथ ही उन्होंने लिखा हे कि चार बार के मुख्यमंत्री के रूप में मेरा जो अनुभव थाए उसने भी मुझे काफी सहयोग दिया है। लोगों के प्रेम और अधिकारियों के विश्वास से भी मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा है।Modi1
मोदी ने अपने ब्लॉग में लिखा है कि जब कोई नई सरकार बनती हैए तो उसके एक वर्ष के कार्यकाल को मीडिया हनीमून पीरियड करार देता है। पिछली सरकारों को इस हनीमून पीरियड का सुख मिला है। लेकिन मेरी सरकार के बनने के 100 घंटे के अंदर ही मीडिया ने हमले करना शुरू कर दिया। हालांकि मैं यह मानता हूं ये सब चीजें मेरे लिए खास मायने नहीं रखती क्योंकि देशहित के लिए काम करना ही हमारा लक्ष्य है। अपने ब्लॉग में मोदी ने इमरजेंसी को भी याद किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.