संसद के दोनों सदनों में जबरदस्त हंगामे के बाद केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने अपने बयान पर खेद जताया। साध्वी ने दोनों सदनों में अपने बयान को वापस लेने की बात कही।

लोकसभा में अपने बयान पर खेद जताने के बाद साध्वी निरंजन ज्योति ने राज्यसभा में भी माफी मांगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के विवादित बयान के बाद अपने सांसदों और नेताओं को नसीहत दी। पीएम मोदी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक में साध्वी का नाम लिए बिना कहा कि जब सरकार इतना अच्छा कम कर रही है तो इस तरह के विवादित बयान की क्या जरूरत है। पीएम ने कहा कि पार्टी के सांसदों और नेताओं को ऐसे बयान से बचना चाहिए।

गौरतलब है कि कल दिल्ली में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए निरजंन ज्योति ने कहा था कि दिल्ली की जनता तय करे की उन्हें दिल्ली में रामजादों का सरकार चाहिए या हरा..जादों की। निरंजन ज्योति ने कल के अपने बयान पर आज एक और विवादित बयान दिया। आज निरंजन ज्योति ने कहा कि सभी मुस्लिम और ईसाई भगवान राम की संतान है, जो इस बात को नहीं मानते हैं वो इस देश को भी नहीं मानेंगे।sadhvi

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.