Lot of job in banking sector

देश के 19 राष्ट्रीय बैंकों में तकरीबन 41,146 पद खाली हैं. इनमें भी अधिकारियों की अधिक कमी है. 31 मार्च, 2012 तक इनमें 20,785 अधिकारियों और 12,695 क्लर्कों की जरूरत थी जबकि सहायक कर्मचारियों के 7,666 पद खाली हैं. वित्त राज्य मंत्री नमो नारायण मीणा ने राज्यसभा में यह जानकारी दी.

गुरुवार को मीणा ने एक सवाल के लिखित जवाब में बताया कि बैंक अपनी जरूरत के हिसाब से भर्ती कर रहे हैं. बैंक अपने कारोबार, वृद्धि, कर्मचारियों की संख्या और सालाना सेवानिवृत्ति होने वाले कर्मचारियों के आधार पर नियुक्ति का फैसला करते हैं. बैंकिंग सेवा भर्ती बोर्ड (बीएसआरबी) को फिर से बहाल करने के बारे में उन्होंने कहा कि अभी इस तरह का कोई प्रस्ताव नहीं है. अधिकारियों के सबसे ज्यादा 3747 पद यूको बैंक में खाली हैं. इसके बाद सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (2854), बैंक ऑफ इंडिया (2802) और पंजाब एंड सिंध बैंक (2500) में अधिकारियों की नियुक्ति की सबसे ज्यादा जरूरत है.
 आंकड़ों के मुताबिक क्लर्कों की सबसे ज्यादा कमी सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (3615) में है. इसके बाद बैंक ऑफ इंडिया (2267), पंजाब नेशनल बैंक (1497) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (1251) का नंबर आता है. इसके उलट बैंक ऑफ बड़ौदा, केनरा बैंक, इंडियन ओवरसीज बैंक, सिंडिकेट बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 31 मार्च तक तक कोई जगह खाली नहीं थी.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.