krishna

आकांक्षा समिति की प्रदेश अध्यक्षा एवं समाज सेविका श्रीमती सुरभि रजन ने कहा

है कि संगीत से समाज में भावनात्मक समरसता का भाव उत्पन्न होता है। उन्होंने कहा

कि संगीत ऐसी कला है जिससे श्रा ेताआ ें के अन्दर आनन्द की अनुभ ूति एवं तनाव से

मुक्ति मिलती है। उन्होंने कहा कि संगीत जीवन का एक ए ेसा सशक्त माध्यम है जिसके

द्वारा मनुष्य का े अपने जीवन में प्र ेरक ऊर्जा प्राप्त होने के साथ-साथ सामाजिक

संस्कृति की भी जानकारी प्राप्त होती है।

श्रीमती सुरभि रंजन आज संगीत नाट्य अकादमी गोमती नगर लखनऊ में

आयोजित स्वरांजली कार्य क्रम का दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ करने के उपरान्त अपने

विचार व्यक्त कर रही थीं। कार्य क्रम में महान संगीतज्ञ कुमार गंधर्व की पुत्री सुश्री

कलापनी कोमकली ने अपने मध ुर स्वर से गीत प्रस्तुत किये। कार्य क्रम कृष्ण कुमार कपूर

की स्मृति में के0के0 कपूर संगीत रिसर्च अकादमी द्वारा आयोजित किया गया था।

आयोजित कार्य क्रम में विख्यात गायिका एवं समाज स ेविका श्रीमती सुरभि र ंजन

का े आयोजका ें द्वारा पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित करते ह ुए कहा कि श्रीमती र ंजन की

आवाज में संगीत का जादू है, इनकी गायिकी से प्रभावित होकर सुर का ेकिला लता

मंगेशकर ने भी अपने मुक्त कंठ से प्रश ंसा की थी। श्रीमती सुरभि र ंजन का े स ंगीत तथा

समाज सेवा के क्ष ेत्र में अनेक अवार्ड दिय े जा चुके हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.