कोलकाता एजेंसी। एक ऐसे दिन जब आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के आठवें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली, भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आज कहा कि उनकी पार्टी ने पिछले साल लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद दिल्ली विधानसभा चुनाव नहीं कराकर रणनीतिक भूल की।  नायडू ने यहां संवाददाताओं से कहा, हमने एक रणनीतिक भूल की। मुझे यह स्वीकार करने में कोई हिचकिचाहट नहीं है। लोकसभा चुनाव के बाद हमें तुरंत विधानसभा चुनाव कराना चाहिए था। हम दिल्ली आसानी से जीत गए होते। पर काफी समय बीत गया। उन्होंने कहा कि भाजपा को आत्म-मंथन करना होगा और अपना जनाधार बढ़ाने के तौर-तरीके तलाशने होंगे। नायडू ने कहा, निश्चित तौर पर दिल्ली के चुनाव एक झटका हैं पर दिल्ली में भाजपा का आधार कायम है। हमारे वोट कायम हैं। उन्होंने कहा कि दूसरी पार्टियों के वोट ‘आपÓ को मिले हैं। भाजपा नेता ने कहा, इस चुनाव में भाजपा के लिए एक सबक है। सबक यह है कि यदि बाकी सभी पार्टियां एक साथ हो जाएं, तो आपको चुनाव जीतने की स्थिति में होना चाहिए। इससे पहले, चौतरफा, पांचतरफा मुकाबले होते थे पर अब कुछ पार्टियों ने फैसला किया है कि वे अन्य पार्टियों को अपना समर्थन देंगे। नायडू ने कहा कि ‘आपÓ ने पानी और बिजली की कीमतों में कमी लाने का वादा दिल्लीवासियों से किया पर भाजपा यह नहीं कर सकी। उन्होंने कहा, हम यह नहीं कह सके क्योंकि हम दिल्ली की माली हालत जानते हैं। केंद्रीय मंत्री ने ‘आपÓ की सरकार को शुभकामनाएं भी दी।
Venkaiya_naidu_670_1395575921

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.