UP CM Akhilesh at roza iftar partyलखनऊ। प्रदेश के राज्यपाल अजीज कुरैशी द्वारा लखनऊ के मोहनलालगंज में एक महिला के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और हत्या की रिपोर्ट मांगे जाने के एक दिन बाद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को उनसे मुलाकात कर संभवत: इस बारे में चर्चा की। मुख्यमंत्री ने राज्यपाल से मिलने के बाद अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए मृतका के दोनों बच्चों के लिए 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की।
राजभवन के सूत्रों ने बताया कि मुलाकात करीब 40 मिनट चली। राज्यपाल ने प्रदेश के मुख्य सचिव से मोहनलालगंज में हुई घटना की विस्तृत रिपोर्ट और कार्रवाई रिपोर्ट मांगी थी। राज्यपाल की ओर से सरकार को भेजे गए पत्र में इस घटना को अत्यंत बर्बर और दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया गया है। अखिलेश ने राज्यपाल से क्या बात की, इस बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है लेकिन संभावना व्यक्त की जा रही है कि मोहनलालगंज मुद्दे पर बातचीत की गई। मामले की जांच की निगरानी कर रही अपर पुलिस महानिदेशक सुतापा सान्याल ने कल कहा था कि मृतका के शव को फिलहाल सुरक्षित रखा जाएगा लेकिन शुक्रवार देर रात ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।
मुख्यमंत्री ने मोहनलालगंज के बलसिंह खेड़ा गांव की घटना को लेकर पुलिस द्वारा अब तक की गयी कार्रवाई की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इस दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण घटना के प्रति राज्य सरकार अत्यंत गंभ्ीर है। अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए अखिलेश ने कहा कि इस घटना का जल्द से जल्द पर्दाफाश किया जाये और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलायी जाये।
अखिलेश ने मृतका के बच्चों के लिए दस लाख रूपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की। साथ ही कहा कि दोनों बच्चों की शिक्षा पर आने वाला खर्च भी राज्य सरकार वहन करेगी।
प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने शनिवार को एक उच्चस्तरीय बैठक में निर्देश दिया कि मोहनलालगंज में हुई घटना में लिप्त अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाये। यह सुनिश्चित किया जाए कि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो। उन्होंने कहा कि लापरवाह अधिकारियों को दंडित किया जाएगा। ब्यूरो

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.